Delhi Schools Reopen Guidelines: राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में चरणबद्ध तरीके से सितंबर से एक बार फिर स्कूल खुल रहे हैं, सबसे पहले 9वीं से 12वीं कक्षा तक के छात्रों के लिए स्कूल खुलेंगे और इसके बाद फिर 6ठी से 8वीं तक के स्कूलों को खोलने का फैसला लिया गया है. शिक्षा निदेशालय ने स्कूलों में कोरोना से बचाव के लिए प्रभावी उपायों के लिए दिशा-निर्देश जारी कर दिए हैं, जिसके तहत छात्रों के बीच आपस में टिफिन, किताबें समेत स्टेशनरी साझा करने की मनाही होगी, बिना मास्क के छात्र, शिक्षक समेत किसी को भी नहीं मिलेगा प्रवेश और बिना अभिभावक की लिखित सहमति के छात्र स्कूल नहीं आ सकेंगे.Also Read - Delhi Me Kab Khulenge Schools: दिल्ली में कब खुलेंगे जूनियर क्लास के स्कूल, आज हो सकता है फैसला

-निदेशालय ने अभिभावकों को कहा है कि परिवार में किसी सदस्य को कोराना संबंधी लक्षण होने पर वह अपने बच्चों को स्कूल ना भेजें, या फिर कोई बच्चा अगर किसी गंभीर बीमारी से संक्रमित है तो उसे स्कूल अभी ना भेजें. Also Read - Schools Reopen In Delhi: शिक्षामंत्री मनीष सिसोदिया का बड़ा बयान-अगर ऐसा हुआ तो आधे घंटे में बंद करा देंगे स्कूल

-निदेशालय ने स्कूलों में आवश्यक रूप से बैठक करने को कहा है, यह बैठक समय-समय पर होंगी, जिसमें कोरोना प्रोटोकॉल और योजना की समीक्षा की जाएगी. स्कूल संचालित करने की योजना को स्कूल प्रमुख बनाएंगे, लेकिन उसे स्कूल प्रबंधन समिति के साथ बैठक के बाद ही लागू किया जाएगा. Also Read - SchoolsReopen: दिल्ली में आज से खुल गए स्कूल, छाता लगाकर पहुंचे छात्र, कहा-हमें इस दिन का कब से था इंतजार

-स्कूल प्रमुखों को कोरोना नियमों का पालन सुनिश्चित कराते हुए कक्षाओं व प्रयोगशाला की क्षमता के मुताबिक योजना बनानी होगी. जिसके तहत एक कक्षा में 50 फीसदी छात्रों को ही बिठाने अनुमति होगी और इस दौरान सामाजिक दूरी के नियमों का पालन सुनिश्चित किया जाएगा.

-स्कूल परिसर में हाथ धोने के लिए प्रर्याप्त वाशबेसिन की व्यवस्था सुनिश्चित करानी होगी और भीड़ से बचने के लिए स्कूल शुरू करने और लंच ब्रेक के कार्यक्रम को अलग से व्यवस्थित करना होगा.  नियमित तौर पर स्कूल परिसर को सैनिटाइज करने के साथ ही गेट पर थर्मल स्क्रीनिंग की व्यवस्था भी करनी होगी.

-स्कूल परिसर व बाहर सामाजिक दूरी के नियमों का पालन सुनिश्चित किया जाएगा, जिसके तहत स्कूल के प्रवेश व निकास गेट में किसी भी तरह की भीड़ बचने की सलाह दी गई है. स्कूल में एक पाली खत्म होने के एक घंटे बाद दूसरी पाली शुरु करनी होगी.

-स्कूल खुलने पर छात्रों के लिए स्कूल के माहौल को बेहतर बनाते हुए शिक्षक छात्रों को मानसिक व भावनात्मक सहयोग प्रदान करेंगे और छात्रों को धीरे-धीरे पठन-पाठन के लिए तैयार करेंगे.

दिल्ली में तीन चरणों में स्कूल खोलने की सिफारिश की गई है, जिसके तहत पहला चरण 1 सितंबर से शुरु होगा, जिसमें से 9वीं से 12वीं तक के स्कूल खुलेंगे. वहीं 8 सिंतबर से कक्षा 6 से 8वीं तक के स्कूल खुलेंगे और फिर तीसरे चरण में प्राइमरी और प्री प्राइमरी कक्षाओं के बच्चों के लिए स्कूल खोले जाएंगे, लेकिन दो चरणों की सफलता के बाद ही स्कूल खोलने का तीसरा चरण शुरू होगा.