दिल्‍ली में एक युवा पहलवान की हत्‍या में मंडोली जेल में बंद ओलंपियन पदक विजेता पहलवान सुशील कुमार (Wrestler Sushil Kumar) को तिहाड़ जेल (Tihar jail) में शिफ्ट किया गया है. दिल्‍ली की कोर्ट ने सुशील पहलवान की न्‍यायायिक हिरासत बढ़ाकर 9 जुलाई कर दी है. कोर्ट के इस निर्देश के बाद पहलवान सुशील कुमार जेल में ही रहेंगे.Also Read - दिल्ली पुलिस ने UAPA के तहत PFIके खिलाफ शाहीन बाग इलाके में FIR दर्ज की

दिल्ली की एक अदालत ने यहां छत्रसाल स्टेडियम में एक युवा पहलवान सागर राणा की कथित हत्या के संबंध में ओलंपिक पदक विजेता पहलवान सुशील कुमार की न्यायिक हिरासत नौ जुलाई तक बढ़ा दी है.  कुमार को 14 दिन की न्यायिक हिरासत की अवधि समाप्त होने पर शुक्रवार को मेट्रोपोलिटन मजिस्ट्रेट मयंक अग्रवाल के समक्ष पेश किया गया। वह हत्या, गैर-इरादतन हत्या और अपहरण के आरोपों का सामना कर रहे हैं. आरोपी के वकील के अनुसार उन्हें मंडोली जेल से तिहाड़ की जेल संख्या दो में भेजा गया है. Also Read - सीडीएस जनरल अनिल चौहान को मिली Z श्रेणी की सुरक्षा, कमांडो और पुलिसकर्मी समेत 22 जवान तैनात रहेंगे

Also Read - कंगना रनौत ने चुनाव लड़ने के सवाल का दिया ये जवाब, मुझे राजनीति में रुचि है....

कुमार ने कथित संपत्ति विवाद को लेकर अपने साथियों के साथ मिलकर चार मई और पांच मई की मध्यरात्रि को स्टेडियम में सागर धनखड़ और उसके दो दोस्तों की पिटायी की थी. बाद में धनखड़ (23) की चोटों के कारण मौत हो गई थी.

पुलिस ने दावा किया कि सुशील कुमार हत्या का ‘‘मुख्य आरोपी और मास्टरमाइंड’’ है और इलेक्ट्रॉनिक साक्ष्य भी उपलब्ध हैं जिसमें कुमार और उसके साथियों को धनखड़ की पिटायी करते हुए देखा जा सकता है.

सुशील कुमार को 23 मई को उनके साथी अजय कुमार सहरावत के साथ पकड़ा गया. अभी तक वह  10 द‍िन की पुल‍िस ह‍िरासत और  23 दिनों की पुलिस और न्यायिक हिरासत में रह चुके हैं. घटना के संबंध में सुशील कुमार समेत कुल 10 लोगों को अभी तक गिरफ्तार किया गया है.

बता दें कि दिल्‍ली पुलिस की स्‍पेशल सेल की टीम ने पिछले महीने 23 मई को ओलंपिक पदक विजेता पहलवान सुशील कुमार दिल्ली के मुंडका इलाके से गिरफ्तार किया था. दिल्ली पुलिस ने छत्रसाल स्टेडियम में 23 साल सागर राणा की हत्या के मामले में सुशील कुमार और अजय को दिल्ली के मुंडका इलाके से गिरफ्तार किया गया था.

सुशील पर छत्रसाल स्टेडियम (Chhatrasal Stadium) में एक पूर्व अंतरराष्ट्रीय पहलवान की हत्या (Chhatrasal Stadium Wrestler Murder,) में शामिल होने के आरोप है. दिल्ली की रोहिणी की अदालत ने उन्हें अग्रिम जमानत देने से भी इनकार कर दिया था. सुशील काफी दिनों से फरार थे. पहलवान सागर धनखड़ की हत्या में आरोपी बनाए जाने के बाद चार मई से ही उनका कोई अता-पता नहीं था और इसी बारे में फीडबैक और सूचना पाने के लिए दिल्ली पुलिस ने एक लाख रुपए के नकद पुरस्कार की घोषणा की थी. इसी के बाद सुशील ने बेल के लिए आवेदन दिया था. कोर्ट ने 15 मई को सुशील कुमार के खिलाफ गैर-जमानती वारंट जारी किया था. दिल्ली पुलिस ने सुशी कुमार के लिए लुक आउट नोटिस जारी किया था.