नई दिल्ली. मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के साढ़ू सुरेंद्र बंसल का सोमवार को पीतमपुरा स्थित उनके निवास पर आकस्मिक निधन हो गया। मौत का कारण दिल का दौरा पड़ना बताया जा रहा है। दोपहर बाद उनका अंतिम संस्कार निगम बोध घाट पर किया गया। सुरेंद्र बंसल वही शख्स हैं, जिनपर केजरीवाल की मदद से 10 करोड़ का पीडब्ल्यूडी ठेका प्राप्त करने की शिकायत पर तीस हजारी अदालत में सुनवाई चल रही है.

पूर्व जल मंत्री कपिल मिश्र ने बंसल की मौत की जांच की मांग की है. बंसल के बेटे ने भी इसपर कुछ भी कहने से इनकार किया है. बता दें कि स्वयंसेवी संस्था रोड्स एंटी-करप्शन ऑर्गेनाइजेशन की शिकायत में कहा गया था कि दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने अपने साढ़ू को PWD के ठेके दिलवाए। बंसल को PWD के नाले बनाने का काम दिया गया था। जिस कंपनी से बंसल ने सामान खरीदने का रिकॉर्ड पीडब्ल्यूडी के समक्ष पेश किया था, उनके सप्लायर के खातों में उक्त लेनदेन का रिकॉर्ड नहीं मिला है। इस मामले में अभी मुकदमा दर्ज नहीं किया गया है। जज ने केवल शिकायत पर दिल्ली की भ्रष्टाचार निरोधक शाखा को जांच करने के आदेश दिए थे।

बंसल ने हाल ही में मुख्य महानगर दंडाधिकारी के समक्ष याचिका लगाकर मामले को किसी अन्य न्यायाधीश के पास स्थानांतरित करने की याचिका लगाई थी, जिसे खारिज कर दिया गया था। कपिल मिश्र ने बंसल पर 50 करोड़ के फार्म हाउस डील के लेनदेन में महत्वपूर्ण भूमिका निभाने का आरोप भी लगाया है।

कपिल पर बरसीं केजरीवाल की वाइफ

कपिल मिश्रा द्वारा लगाए गए करप्शन के आरोपों के बाद से अरविंद केजरीवाल चुप हैं लेकिन इस मामले में पहली बार उनकी पत्नी सुनीता केजरीवाल अपने पति के बचाव में सामने आईं. उन्होंने ट्वीट कर कहा है कि कि कपिल मिश्रा हमारे जिस बहनोई सुरेंद्र बंसल की बात कर रहे हैं उनका देहांत हो चुका है और वो बिना सोचे समझे लिखी हुई स्क्रिप्ट को पढ़े जा रहे हैं.