Former Union Minister, Rahul Gandhi, Congress, delhi, News: नई दिल्ली: देश के पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी के दोस्‍त रहे पूर्व केंद्रीय मंत्री कैप्टन सतीश शर्मा (Captain Satish Sharma) का शुक्रवार को दिल्‍ली (DELHI) अंतिम संस्कार कर दिया गया. उनका बुधवार को गोवा में निधन हो गया था. वह 73 साल के थे. उनकी अर्थी को कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने भी कंधा दिया है.Also Read - जानिए क्या है Teleprompter और कैसे करता है काम? जिसे लेकर राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर कसा तंज

पूर्व केंद्रीय मंत्री कैप्टन शर्मा पिछले कुछ समय से बीमार थे. वह कैंसर से पीड़ित थे. उनका अंतिम संस्कार यहां लोधी रोड स्थित श्मशान घाट में हुआ. Also Read - Capt. Amarinder Singh ने चुनाव से पहले कांग्रेस और मुख्यमंत्री पद छोड़कर बनाई नई पार्टी, जानें उनके बारे में सबकुछ

इस मौके पर कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी, पार्टी महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा , प्रियंका के पति रॉबर्ट वाड्रा और कांग्रेस के कई नेताओं एवं कार्यकर्ताओं ने शर्मा को श्रद्धांजलि अर्पित की. राहुल गांधी ने उनकी अर्थी को कंधा भी दिया. Also Read - UP Election 2022: आगरा में 6 उम्मीदवारों ने चुनाव के लिये नामांकन किया, एक ट्रांसजेंडर भी मैदान में

पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी के निकट सहयोगी रहे कैप्‍टन सतीश शर्मा केंद्र की पीवी नरसिंह राव सरकार में 1993 से 1996 तक केंद्रीय पेट्रोलियम एवं प्राकृतिक गैस मंत्री रहे. आंध्र प्रदेश के सिकंदराबाद में 11 अक्टूबर , 1947 को जन्मे शर्मा एक पेशेवर कर्मिशियल पायलट थे.

रायबरेली और अमेठी निर्वाचन क्षेत्रों का प्रतिनिधित्व कर चुके शर्मा तीन बार लोकसभा सदस्य चुने गए थे. वह तीन बार राज्यसभा सदस्य भी बने और उच्च सदन में उन्होंने मध्य प्रदेश , उत्तराखंड और उत्तर प्रदेश का प्रतिनिधित्व किया.

कैप्‍टन सतीश शर्मा वह पहली बार जून 1986 में राज्यसभा सदस्य बने और बाद में राजीव गांधी के निधन के बाद 1991 में अमेठी से लोकसभा सदस्य चुने गए. इसके बाद वह जुलाई 2004 से 2016 तक राज्यसभा सदस्य रहे.