oxygen Crisis in Delhi कांग्रेस ने शनिवार को आरोप लगाया कि कोरोना महामारी के इस संकट के दौरान दिल्ली में लोग ऑक्सजीन की कमी दम तोड़ रहे हैं, लेकिन इस समस्या को दूर करने की बजाय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल आपस में झगड़ रहे हैं. पार्टी के वरिष्ठ प्रवक्ता अजय माकन यह भी कहा कि दोनों नेता झगड़ना बंद करके राष्ट्रीय राजधानी में ऑक्सीजन की पूरी आपूर्ति सुनिश्चित करें. उन्होंने डिजिटल संवाददाता सम्मेलन में आरोप लगाया, ‘‘यह सिर्फ एक प्राकृतिक आपदा की वजह से नहीं हो रहा है, बल्कि इसका एक बड़ा कारण सरकार का अहंकार है.’’Also Read - रेलवे के 91 हज़ार पद ख़त्म करने की रिपोर्ट पर राहुल गांधी ने कहा- मोदी सरकार को ये महंगा पड़ेगा

माकन ने स्वास्थ्य संबंधी संसद की स्थायी समिति की एक रिपोर्ट का हवाला देते हुए कहा कि अगर सरकार फरवरी महीने में चेत गई होती तो आज यह स्थिति नहीं होती. उन्होंने कहा, ‘‘इस रिपोर्ट में ऑक्सीजन का उल्लेख 40 बार किया गया है. समिति ने सरकार को चेताया था, लेकिन सरकार पर कोई फर्क नहीं पड़ा. दुख की बात है कि आज कई जगहों और खासकर देश की राजधानी में ऑक्सीजन की कमी से लोग मर रहे हैं.’’ Also Read - वीर सावरकर की बात कांग्रेस ने मानी होती तो देश विभाजन की त्रासदी से बच गया होता: सीएम योगी

माकन ने कहा, ‘‘दिल्ली और केंद्र सरकार आपस में झगड़ रहे हैं, जबकि ऑक्सीजन की समस्या पर ध्यान नहीं दिया जा रहा है. हम नरेंद्र मोदी जी और ‘छोटे मोदी’ केजरीवाल जी से कहना चाहते हैं कि वे झगड़ना बंद करें. ऑक्सीजन की समस्या को दूर करने का प्रयास करें. आप दोनों बाद में तय कर लीजिएगा कि दिल्ली में शासन कौन करेगा.’’ Also Read - पीएम मोदी ने की सरकार की तारीफ, वरुण गांधी ने साधा निशाना, राजनीति से लेकर मनोरंजन तक... ये हैं आज की बड़ी ख़बरें

उन्होंने दावा किया कि दिल्ली में केजरीवाल सरकार ने पिछले एक साल में ऑक्सीजन भंडारण की व्यवस्था के लिए कोई प्रयास नहीं किया.

(इनपुट भाषा)