naxals’ and ‘khalistanis, farmers protest, kisan andolan, Defence Minister Rajnath Singh NEWS: रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह से एक इंटरव्‍यू के दौरान जब बुधवार को किसानों को ‘नक्सल’ और ‘खालिस्तानी ‘ करार दिए जाने पर सवाल क‍िया  गया तो उन्‍होंने कहा, ये आरोप किसानों पर किसी के द्वारा नहीं लगाए जाने चाहिए. हम उनके प्रति अपना गहरा सम्मान व्यक्त करते हैं. वे हमारे अन्‍नदाता हैं. हम किसानों के प्रति हमारे सिर झुकते हैं. वे हमारे ‘उद्घोष’ हैं. Also Read - सरकार और किसानों की आज होने वाली बैठक टली, अब 20 जनवरी को होगी अगली मीटिंग

ये बात रक्षा मंत्री ने किसान आंदोलन के बीच न्‍यूज एजेंसी, एएनआई से एक इंटरव्‍यू के दौरान कही है. बता दें कि एक महीने से अधिक समय से किसानों का आंदोलन केंद्र सरकार के तीन कृषि बिलों की वापसी की मांग को लेकर चल रहा है. आज किसानों और सरकार के बीच बातचीत होना है. Also Read - दिग्विजय सिंह ने राम मंदिर निर्माण के लिए दान किए 111111 रुपये, मोदी को पत्र लिखकर मांगा विहिप द्वारा जुटाए गए चंदे का हिसाब

कुछ ताकतों ने किसानों के बीच कुछ गलतफहमियां पैदा करने की कोशिश की है
रक्षा मंत्री ने कहा, कुछ ताकतों ने किसानों के बीच कुछ गलतफहमियां पैदा करने की कोशिश की है. हमने कई किसानों से भी बात की है. किसानों से मेरा केवल यही अनुरोध है कि खंड-वार चर्चा की जानी चाहिए और ‘हां या ‘नहीं’उत्तर की तलाश करनी चाहिए. हम संकल्प लेंगे.

“मार जा, मर जा” के नारे पीएम के खिलाफ लगाए गए
रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा, अपमानजनक टिप्पणी पीएम के खिलाफ नहीं की जानी चाहिए. पीएम सिर्फ एक व्यक्ति नहीं बल्कि एक संस्था है. मैंने कभी किसी पूर्व प्रधानमंत्री के खिलाफ अपमानजनक शब्दों का इस्तेमाल नहीं किया. “मार जा, मर जा” के नारे पीएम के खिलाफ लगाए गए, मुझे वाकई बहुत दुख हुआ.

किसानों के आंदोलन पर किसी भी देश को टिप्‍पणी नहीं करना चाहिए
मैं किसी भी देश के प्रधानमंत्री के बारे में कहना चाहूंगा कि भारत के आंतरिक मामलों के बारे में टिप्पणी नहीं की जानी चाहिए. भारत को किसी भी बाहरी हस्तक्षेप की आवश्यकता नहीं है. यह हमारा आंतरिक मामला है. किसी भी देश को हमारे आंतरिक मामलों पर टिप्पणी करने का अधिकार नहीं है.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी व्‍यथित हैं
रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा, किसानों के प्रति असंवेदनशील होने का कोई सवाल ही नहीं है. हमारे किसान प्रदर्शन कर रहे हैं और मैं केवल अकेले ही दुखी नहीं हूं, बल्कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी व्‍यथित हैं.

राहुल गांधी मुझसे छोटे हैं और मैं उनसे ज्यादा कृषि के बारे में जानता हूं 
रक्षा मंत्री सिंह ने कहा, राहुल गांधी मुझसे छोटे हैं और मैं उनसे ज्यादा कृषि के बारे में जानता हूं. क्योंकि मेरा जन्म किसान-माता के गर्भ से हुआ है. हम किसानों के खिलाफ फैसले नहीं ले सकते.