नई दिल्ली: भाजपा शासित उत्तरी दिल्ली नगर निगम (एनडीएमसी) चांदनी चौक क्षेत्र में हनुमान मंदिर का अस्थायी ढांचा खड़ा किए जाने को कानूनी दर्जा प्रदान करने की संभावनाएं तलाश करेगा. एनडीएमसी के महापौर जय प्रकाश ने रविवार को यह बात कही. हालांकि, पुलिस इस मामले में कार्रवाई शुरू कर चुकी है.Also Read - निचली कोर्ट ने भगवान को ही 'तलब' कर लिया, HC ने जताई नाराजगी कहा- भगवान को पेशी पर नहीं बुलाया जा सकता

चांदनी चौक में गत जनवरी में प्रशासन ने अदालत के आदेश के बाद एक मंदिर को गिराने की कार्रवाई की थी, जिसके स्थान पर यह अस्थायी ढांचा खड़ा किया गया है. जय प्रकाश ने कहा, ‘‘ ढांचे को कानूनी दर्जा प्रदान करने की संभावनाएं तलाश करने के लिए मैंने सोमवार को अधिकारियों के साथ एक उच्च स्तरीय बैठक बुलाने की योजना बनाई है.’’ उन्होंने मामले को बेहद संवेदनशील करार दिया. साथ ही कहा कि वैसे ढांचा सड़क के मध्य भाग में है. Also Read - Fire in Chandni Chowk: दिल्ली की लाजपत राय मार्केट में लगी भीषण आग, 80 दुकानें जलकर राख हुईं; करोड़ों का नुकसान

कुछ स्थानीय लोगों का दावा है कि अस्थायी स्टील का ढांचा गत शुक्रवार तड़के तैयार किया गया है और इलाके में लगे सीसीटीवी कैमरे बंद थे. दिल्ली सरकार का लोक निर्माण विभाग चांदनी चौक के सौंदर्यीकरण का काम कर रहा है. विभाग ने शनिवार को कोतवाली पुलिस को शिकायत देकर चांदनी चौक के मध्य भाग में स्थापित किए गए स्टील ढांचे के खिलाफ कार्रवाई का अनुरोध किया. इस मामले में अब तक प्राथमिकी दर्ज नहीं हुई है. Also Read - Delhi Lockdown News: दिल्ली में कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच NDMC ने बारात घरों की बुकिंग बंद की, मौजूदा बुकिंग भी रद्द

एक पुलिस अधिकारी ने कहा, ‘‘ हमें शिकायत प्राप्त हुई है और इस मामले में कानूनी कार्रवाई शुरू की गई है.’’ इस बीच, स्थानीय लोगों ने इस अस्थायी मंदिर में जाकर पूजा-अर्चना शुरू कर दी है. इस जगह पर पुराने मंदिर में स्थापित भगवान हनुमान की मूर्ति भी स्थापित की गई है.

(इनपुट भाषा)