delhi oxygen crisis रेलवे बोर्ड के अध्यक्ष सुनीत शर्मा ने बताया कि कुल 70 टन ऑक्सीजन के चार टैंकर को लेकर पहली ऑक्सीजन एक्सप्रेस रविवार रात को रायगढ़ के जिंदल इस्पात संयंत्र से रवाना होगी और सोमवार रात को दिल्ली पहुंचेगी. उन्होंने बताया कि रेलवे ने अंगुल, कलिंगनगर, राउरकेला और रायगढ़ से दिल्ली और राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र (एनसीआर) में ऑक्सीजन पहुंचाने की योजना बना ली है. शर्मा ने कहा कि दिल्ली सरकार को सलाह दी गई है कि वह ऑक्सीजन प्राप्त करने के लिए रोड टैंकर तैयार रखे.Also Read - वैष्णो देवी के दर्शन के लिए जाने वाले श्रद्धालु हो जाएं सावधान, ऐसे हो सकता है नुकसान

रेलवे बोर्ड के अध्यक्ष ने कहा, ‘‘पहली ऑक्सीजन एक्सप्रेस चार टैंकरों में 70 टन ऑक्सीजन भरकर राष्ट्रीय राजधानी के लिए आज रात रवाना होगी. यह एक्सप्रेस रायगढ़ स्थित जिंदल स्टील वर्क से ऑक्सीजन लेकर दिल्ली छावनी सोमवार रात को पहुंचेगी.’’ उल्लेखनीय है कि कई इलाकों में कोविड-19 के मामलों में बढ़ोतरी की वजह से ऑक्सीजन की बढ़ी मांग को पूरा करने के लिए रेलवे ने ऑक्सीजन एक्सप्रेस चलाने का फैसला किया है. . Also Read - Indian Railways: आपके ट्रेन के टिकट पर छपे नंबर में छिपा है गहरा राज, क्या आप जानते हैं इन 5 नंबर्स का मतलब

शर्मा ने कहा, ‘‘अबतक हमने 150 टन ऑक्सीजन महाराष्ट्र और उत्तर प्रदेश पहुंचायी है और आज रात 150 टन और ऑक्सजीन की ढुलाई करेंगे. दिल्ली के लिए रायगढ़ के जिंदल इस्पात कारखाने में चार टैंकर भरकर लाने के लिए तैयार है.’’ अधिकारियों ने बताया कि दिल्ली सरकार ने रेलवे को लिखे पत्र में नौ स्थानों पर ऑक्सीजन उतराने की सुविधा देने को कहा था. Also Read - यात्रीगण कृपया ध्यान दें, Indian Railway ने शुरू की ये खास सुविधाएं; आपको मिलेंगी या नहीं, ऐसे करें चेक

अधिकारी ने बताया, ‘‘इन स्थानों का परीक्षण करने और व्यावहारिकता का विश्लेषण करने के बाद राज्य सरकार को सूचित किया गया कि सात स्थानों से ऑक्सीजन को ट्रेन से उतारा जा सकता है जबकि दो स्थान तकनीकी कारणों से इस कार्य के लिए उपयुक्त नहीं है.’’

(इनपुट भाषा)