Delhi, Sir Ganga Ram Hospital, oxygen, ICU, covid-19, News: देश की राजधानी में दिल्ली में स्थित सर गंगाराम अस्पताल में पिछले 24 घंटे में गंभीर रूप से बीमार 25 कोविड मरीजों की मौत होने की आई खबरों को इसके चेयरमैन डॉ.डी.एस राणा ने झूठा बताया है. उन्‍होंने कहा- यह गलत ख़बर है कि कोरोना से जितने भी मरीजों की मृत्यु हुई है, वे सब ऑक्सीजन की कमी से हुई. यह पूरी तरह से गलत है, ऐसा नहीं हुआ है. हमारे ICU में पहले ऑक्सीजन दबाव कम हो गया था. उस दौरान हम लोगों ने मरीजों को मैनुअल तरीके से ऑक्सीजन दी थी.Also Read - हफ्ते में सिर्फ 3 दिन जाना होगा ऑफिस, 8 फीसदी बढ़ेगी सैलरी; जानिए - कौन सी कंपनी दे रही है यह सुविधा

सर गंगाराम अस्पताल के चेयरमैन ने कहा, जब आईसीयू के बेड में ऑक्‍सीजन के प्रेशर कम हुआ, तो मरीजों को मैन्युअली ऑक्‍सीजन दिया गया. बिना ऑक्‍सीजन के किसी को मरने नहीं दिया गया. Also Read - भारत में Omicron के सब वेरिएंट BA.5 के एक और मरीज की पुष्टि, दक्षिण अफ्रीका से वडोदरा आया था शख्स

बता दें कि मीडिया में आज शुक्रवार को खबरें सामने आईं थीं. दिल्ली के सर गंगाराम अस्पताल में पिछले 24 घंटे में गंभीर रूप से बीमार 25 कोविड मरीजों की मौत हो गयी और 60 ऐसे और मरीजों की जान भी खतरे में है. न्‍यूज एजेंसी भाषा और एएनआई ने ऐसी खबरें जारी की थीं. दिल्ली के सर गंगाराम अस्पताल में पिछले 24 घंटे में गंभीर रूप से बीमार 25 कोविड मरीजों की मौत हो गयी और 60 ऐसे और मरीजों की जान भी खतरे में है. राष्ट्रीय राजधानी में ऑक्सीजन की कमी को लेकर गंभीर संकट की स्थिति पैदा होने के बीच अधिकारियों ने शुक्रवार को इस बारे में बताया. सूत्रों ने बताया कि घटना के पीछे संभावित वजह ऑक्सीजन की कमी हो सकती है. Also Read - दिल्ली में भारी बारिश से मौसम हुआ सुहाना, तो कहीं Heavy Rain बनी आफत | Watch

एसजीआरएच में ऑक्सीजन का पर्याप्त भंडार, ऑक्सीजन का एक टैंकर अस्पताल पहुंचा
केंद्र सरकार के एक सूत्र ने बताया कि सर गंगाराम अस्पताल (एसजीआरएच) में ऑक्सीजन का पर्याप्त भंडार है और एक ऑक्सीजन का एक टैंकर अस्पताल पहुंचा है जो भंडार क्षमता को पूरा करेगा. सर गंगाराम अस्पताल (एसजीआरएच) के एक अधिकारी ने बताया कि टैंकर सुबह करीब 9 बजकर 20 मिनट पर पहुंचा. यह खेप करीब पांच घंटे और चलेगी जो ऑक्सीजन की खपत पर निर्भर करता है. ए

गंगा राम अस्पताल में 500 से ज्यादा संक्रमित मरीज भर्ती, 150 ‘हाई फ्लो ऑक्सीजन सपोर्ट’ पर 
सजीआरएच के चेयरमैन डॉ डी एस राणा ने कहा, हमें सिर्फ निर्बाध और समय पर ऑक्सीजन की आपूर्ति की जरूरत है. मध्य दिल्ली के सर गंगा राम अस्पताल में 500 से ज्यादा संक्रमित मरीज भर्ती हैं और इनमे से 150 मरीज ‘हाई फ्लो ऑक्सीजन सपोर्ट’पर हैं.

ऑक्‍सीजन को लेकर पहले सामने आईं ये  बातें
इससे पहले अस्पताल में एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया, ”वेंटिलेटर और बीआईपीएपी मशीनें भी प्रभावी रूप से काम नहीं कर रही हैं. गंभीर रूप से बीमार अन्य 60 मरीजों की जान भी खतरे में हैं और गंभीर संकट की आशंका है. अधिकारी के अनुसार अस्पताल के आईसीयू और आपात-चिकित्सा विभाग में गैर-मशीनी तरीके से वेंटिलेशन बहाल करने का प्रयास किया जा रहा है. अस्पताल के अधिकारियों ने बृहस्पतिवार रात सरकार को आपात संदेश भेजकर कहा था कि स्वास्थ्य केंद्र में केवल पांच घंटे के लिए ऑक्सीजन बची है और तुरंत इसकी आपूर्ति का अनुरोध किया था. एक अधिकारी ने बताया, रात आठ बजे तक मौजूद ऑक्सीजन का भंडार पांच घंटे और चलता जो रात एक बजे तक चल सकता था. अस्पताल को रात में साढ़े 12 बजे के करीब कुछ ऑक्सीजन की आपूर्ति की गई. एक सूत्र ने बताया, ” दो टन ऑक्सीजन ले कर आ रहा एक टैंकर आंबेडकर अस्पताल के पास फंस गया.”

दिल्‍ली में 4 दिनों में कई निजी अस्पतालों में ऑक्सीजन की आपूर्ति व्यवस्था प्रभावित
पिछले चार दिनों में शहर के कई निजी अस्पतालों में ऑक्सीजन की आपूर्ति व्यवस्था प्रभावित हुई है. कुछ अस्पतालों ने दिल्ली सरकार से मरीजों को दूसरे स्वास्थ्य केंद्रों में भी भेजने का अनुरोध किया. दिल्ली के उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्ष वर्धन को एक पत्र में कहा था कि बृहस्पतिवार शाम तक छह निजी अस्पतालों में ऑक्सीजन का भंडार खत्म हो जाएगा. एक सरकारी डॉक्टर ने कहा कि ऑक्सीजन के गंभीर संकट के कारण दिल्ली के अस्पताल और मरीजों को भर्ती करने से बच रहे हैं.