Weather Report: सर्दियों का मौसम आ चुका है. इस मौसम की दो तस्वीरें हर साल सामने आती हैं, जिसमें से एक को देखकर दिल खुश हो जाता है और दूसरी तस्वीर सोचने पर मजबूर करती है कि हमने प्रकृति के साथ क्या कर दिया है. जी हां पहली तस्वीर जिसकी हम बात कर रहे हैं वह है पहाड़ों की, जहां से बर्फबारी (Snowfall) की शानदार तस्वीरें सामने आती हैं. कश्मीर (Kashmir) से लेकर उत्तराखंड (Uttarakhand) के पहाड़ी इलाकों तक मंगलवार को बर्फ की मोटी चादर से तमाम इलाके ढक गए. बेहद शानदार तस्वीरें केदारनाथ से आईं, जिसमें केदारनाथ मंदिर के आसपास बर्फ की मोटी चादर (Snowfall at Kedarnath) देखी जा सकती है. कश्मीर घाटी के कई इलाकों में बर्फबारी के कारण तापमान शून्य से नीचे चला गया है और बुधवार से यहां बारिश (Rain) की संभावना भी है. दूसरी तस्वीर है दिल्ली की… यहां इस मौसम में प्रदूषण (Pollution) का स्तर इतना बढ़ जाता है कि सांस लेना मुश्किल हो जाता है और तस्वीर में दिखते हैं तो सिर्फ धूल और धुंआं…Also Read - Republic Day 2022: अगर LIVE नहीं देख पाए तो यहां तस्वीरों में देखें अपने राज्य की झांकी

बात दिल्ली से ही शुरू करते हैं. दिल्ली की वायु गुणवत्ता में मंगलवार सुबह सुधार देखा गया और यह ‘बहुत खराब’ से ‘खराब श्रेणी’ में आ गई. राष्ट्रीय राजधानी का वायु गुणवत्ता सूचकांक (AQI) सुबह 9.05 बजे 268 दर्ज किया गया. एनसीआर के अन्य शहर गुरुग्राम और ग्रेटर नोएडा में एक्यूआई क्रमश: 258 और 215 दर्ज किया गया. फरीदाबाद (256) और नोएडा (247) में भी वायु गुणवत्ता खराब श्रेणी में दर्ज की गई. Also Read - देश के पहाड़ी राज्यों में भारी बर्फबारी- रेलवे ने शेयर की कालका-शिमला रूट की तस्वीरें- Photos देख रोमांचित हो जाएंगे आप

AQI को समझना बेहत आसान है –
शून्य से 50 – अच्छा
51 से 100 – संतोषजनक
101 से 200 – मध्यम
201 से 300 – खराब
301 से 400 – बहुत खराब
401 से 500 – गंभीर Also Read - आजादी के 75 साल में पहली बार पाकिस्‍तान से तीर्थयात्र‍ी PIA की स्‍पेशल फ्लाइट से पहुंचेंगे भारत

बता दें कि दिल्ली की वायु गुणवत्ता सोमवार को ‘बहुत गंभीर’ श्रेणी में दर्ज की गई थी. पृथ्वी विज्ञान मंत्रालय की वायु गुणवत्ता निगरानी एजेंसी सफर ने सोमवार को कहा था कि अगले दो दिनों में हवा की मध्यम गति और राष्ट्रीय राजधानी में न्यूनतम तापमान में गिरावट की संभावना है. उसने कहा, ‘कुल प्रभाव यह है कि हवा की गुणवत्ता खराब श्रेणी के ऊपरी छोर या बहुत खराब श्रेणी के निचले छोर के भीतर रहेगी.’ मंगलवार सुबह न्यूनतम तापमान सामान्य से दो डिग्री अधिक 11.4 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया. सुबह 8.30 बजे हवा में नमी का स्तर 80 प्रतिशत रहा.

कश्मीर घाटी में पारा फिर शून्य से नीचे
बात अच्छी तस्वीर की करें तो मंगलवार सुबह उत्तराखंड के चारधामों में से एक भगवान भोले शंकर के धाम, केदारनाथ में बर्फबारी की तस्वीर सामने आईं. यहां बर्फ की मोटी चादर से पूरा इलाका ढका हुआ नजर आया. कश्मीर में न्यूनतम तापमान मंगलवार को फिर से शून्य से नीचे दर्ज किया गया. मौसम विभाग ने बुधवार से दो दिनों तक घाटी में बारिश की उम्मीद जताई है. अधिकारियों ने बताया कि उत्तर कश्मीर में बारामुला जिले के गुलमर्ग रिजॉर्ट में न्यूनतम तापमान शून्य से नीचे माइनस सात डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया. उन्होंने बताया कि यह रिजॉर्ट, घाटी में सबसे ठंडा स्थान रहा.

अधिकारियों ने बताया कि श्रीनगर में सोमवार की रात को शून्य से कम -1.4 डिग्री सेल्सियस तापमान दर्ज किया गया, जो बीती रात से चार डिग्री कम है. उन्होंने बताया कि वार्षिक अमरनाथ यात्रा के आधार शिविर पहलगाम में पारा पांच डिग्री से अधिक तक गिरकर शून्य से नीचे -4.8 डिग्री सेल्सियस पर दर्ज किया गया.

उत्तर कश्मीर में कुपवाड़ा में न्यूनतम तापमान शून्य से नीचे एक डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया. घाटी के प्रवेश द्वार माने जाने वाले काजीगुंड में न्यूनतम तापमान 0.2 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया जबकि कोकेरनाग में शून्य से नीचे -1.2 डिग्री सेल्सियस तापमान दर्ज किया गया. मौसम विज्ञान विभाग ने बुधवार और गुरुवार को कुछ स्थानों पर हल्की बारिश या हिमपात की संभावना जताई है.

(इनपुट – एजेंसियां)