बॉलीवुड के मिस्टर परफेक्शनिस्ट आमिर खान अक्सर कुछ ऐसा करते हैं जिसके कारण वो चर्चा में बन जाते हैं। आमिर अक्सर अपने अंदाज में सामाजिक मुद्दों पर अपनी राय लोगों के सामने रखते हैं। एक बार फिर आमिर ने बेहद गंभीर सामाजिक मुद्दे पर अपना सन्देश दिया है जो कि जेंडर इक्वलिटी पर है।

स्टार प्लस के कैम्पेन ‘नई सोच’ के लिए शूट किए गए इस वीडियो में आमिर एक सरदार के रूप में दिख रहे हैं। 48 सेकंड के वीडियो में आमिर खान एक मिठाई की दुकान के मालिक गुरिंदर सिंह के रोल में हैं और एक ग्राहक को बताते हैं कि उनके बच्चों की वजह से ही उनका दुकान तरक्की कर रहा है।

इस पर जब ग्राहक उनसे कहता हैं कि आपके बेटे बड़े होनहार हैं जिसके बाद गुरिंदर (आमिर) अपनी बेटियों की तरफ इशारा करते हुए कहते हैं कि बेटे नहीं बेटियां। इसके बाद जब ग्राहक बाहर आता है तो दुकान के बोर्ड पर लिखा होता है ‘गुरिंदर सिंह एंड डॉटर्स’। ये भी पढ़ें: अमेरिका ने सीरियाई सिनेमेटोग्राफर को ऑस्कर में शामिल होने से रोका

सोच बदलने वाले इस वीडियो में यह संदेश दिया गया है कि कामयाबी लड़का या लड़की नहीं देखती, सोच देखती है।