Abhinav Kholi React on Shweta Tiwari- टीवी एक्ट्रेस श्वेता तिवारी ने अपनी निजी जिंदगी में काफी उतार-चढ़ाव देखे हैं. वे सारी जिंदगी प्यार के लिए तरसती रहीं. दो शादियां कीं लेकिन एक भी नहीं चल पाई. श्वेता ने बताया कि इसका कितना बुरा असर उनके बच्चों पर पड़ा. दूसरी शादी में श्वेता ने अभिनव कोहली से तलाक ले लिया. इस बारे में काफी विवाद भी सामने आए थे, जब श्वेता ने मीडिया को बताया कि उनके पति श्वेता की बेटी पलक के साथ गंदा व्यवहार रखते थे व उसे गंदी फिल्में दिखाने की कोशिश कर रहे थें. Also Read - 'सइयां जी' ने पार किए 40 करोड़ व्यूज, नुसरत भरूचा ने कह दी ये बात

श्वेता और अभिनव के बीच आरोप-प्रत्यारोप अभी तक जारी है. श्वेता अपनी ‘खतरों के खिलाड़ी’ (Katron Ke Khiladi) की शूटिंग में हिस्सा लेने के लिए केपटाउन (Cape Town) चली गई हैं. श्वेता ने एक इंटरव्यू में कहा था कि अभिनव ने श्वेता हर बात में झूठ बोलती हैं. Also Read - Kareena Kapoor ने बेबाकी से खोले बेडरूम के राज़, बोलीं- बिस्तर पर इन तीन चीजों के बिना नहीं चलता काम

Also Read - Aashram के Sandeep Yadav ने चालीस दिन खुद को किया एक कमरे में बंद, फिर कुछ ऐसा कर सबको भावुक कर दिया

उनके जाने के बाद पलक और मेरे रिश्तेदार रेयांश का ख्याल रख रहे हैं. और श्वेता बोलती हैं कि मैं एक पैसा बच्चों की परवरिश पर खर्च नहीं करता. जब मैं अर्जुन के साथ शो कर रहा था तब भी तुम्हें इनकम का 40 पर्सेंट भेजता था.

अभिनव ने कहा अब ऐसे वक्त जब चारों तरफ कोरोना फैला हुआ है. बच्चों के लिए ज्यादा खतरा है ऐसे में तुम्हें क्या जरूरत पड़  गई जो तुम्हें बच्चा छोड़कर कमाने के लिए जाना पड़ा. क्या तुम्हारे पास पैसों की इतनी कमी पड़ गई है. अभिनव चाहते थे कि श्वेता अपना बच्चा उनके पास छोड़कर जाए. अगर वो बताकर जाती तो उन्हें होटलों में अपने बच्चे को ढूंढने के लिए धक्के नहीं खाने पड़ते.

तस्वीरें- इंस्टाग्राम

बता दें, श्वेता ने एक वेबसाइट को दिए इंटरव्यू में बताया उनकी बेटी पलक ने 6 साल की उम्र में उन्हें पिटते हुए देखा है. मेरा बेटा रेयांश जोकि रियांश (श्वेता और अभिनव का बेटा), जोकि 4 साल का है और वह पुलिस, जजों के बारे में जानता है और ये सिर्फ मेरी वजह से नहीं है. श्वेता ने कहा कि वो मजबूर थी. उसके पास और कोई चारा नहीं था. मेरे बच्चे बताते नहीं हैं. वे अपनी भावनाएं छिपाते हैं. मैं क्या करूं? वे जब बहुत ज्यादा खुश हो रहे होते हैं तो मुझे समझ नहीं आता वे ऐसा क्यों कर रहे हैं. अपनी फीलिंग्स क्यों छिपा रहे हैं. क्या मुझे उन्हें काउंसरल के पास ले जाना चाहिए. वे उस गुनाह की सजा भुगत रहे हैं जिसके जिम्मेदार वो नहीं हैं.