नई दिल्ली: राजनीति की दुनिया में अक्सर किसी न किसी बात से हलचल मची रहती है. इस बार फिर से ‘जय श्री राम’ के नारे से विवाद खड़ा हो गया है. पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी जब नेताजी की जयंती पर विक्टोरिया मेमोरियल में आयोजित कार्यक्रम में भाषण देने पहुंची तब कुछ लोगों ने ‘जय श्रीराम’ के नारे लगा दिए जिसके बाद उन्होंने संबोधन देने से इनकार कर दिया और कहा कि उनका ‘अपमान’ किया गया है. इसी मामले में अब एक्ट्रेस और टीमएसी की सांसद नुसरत जहां (Nusrat Jahan) ने भी आपत्ति जताते हुए ट्विटर पर खरी खोटी सुनाई है.Also Read - 'ममता बनर्जी से करीबी संबंध'-अमित शाह संग डिनर के एक दिन बाद बोले Sourav Ganguly; जानें क्या हैं इसके मायने

नुसरत जहां ने ट्वीट करते हुए लिखा- ‘राम का नाम गले लगाके बोले ना कि गला दबाके. स्वतंत्रता सेनानी नेताजी सुभाषचंद्र बोस की 125 जयंती के उपलक्ष्य में आयोजित सरकारी समारोह में राजनीतिक और धार्मिक नारेबाजी की सख्ती से आलोचना करती हूं.’ Also Read - fuel price hike: यूथ कांग्रेस का पेट्रोलियम मंत्री हरदीप सिंह पुरी के घर के बाहर सिलेंडर के साथ प्रदर्शन

Nusrat Jahan, Nusrat Jahan speaks on Jai Sri Ram sloganeering incident, West Bangal, KolKata, Mamata Banerjee, Nusrat Jahan Tweet, Social Media, Viral Tweet, News18, Network 18, नुसरत जहां, नुसरत जहां   का ट्वीट Also Read - कोलकाता: अमित शाह ने कहा- बंगाल में भय का माहौल, भाजयुमो कार्यकर्ता की मौत की CBI जांच हो

बता दें कि इस कार्यक्रम में प्रधानमंत्री मोदी भी मौजूद थे. खबरों के मुताबिक जैसे ही ममता बनर्जी भाषण देने के लिए मंच पर पहुंचीं, जयश्री राम के नारे लगने लगे. इससे नाराज ममता बनर्जी ने मंच पर बोलने से इनकार कर दिया. एक तरफ जयश्री राम तो दूसरी तरफ भारत माता की जय के नारे लग रहे थे.

ममता बनर्जी ने कहा, “मुझे लगता है कि गवर्मेंट के प्रोग्राम की कोई गरिमा होनी चाहिए. यह सरकारी कार्यक्रम है, यह किसी पार्टी का प्रोग्राम नहीं है. अब इस मुद्दे ने सोशल मीडिया पर भी तूल पकड़ ली है.