कलर्स के बालिका वधू शो में आनंदी की भूमिका निभा कर लाखो लोगों के दिलों पर राज करनेवाली प्रत्युषा बनर्जी की कथित आत्महत्या के बाद अब बॉलीवुड के गलियारों से प्रतिक्रियाएं मिलना शुरू हो गया है। हाल ही में बॉलीवुड की दिग्गज हेमा मालिनी ने प्रत्युषा की आत्महत्या को मूर्खतापूर्ण बताया था तो अब निर्माता निर्देशक महेश भट्ट ने भी इस घटना पर अपनी बेबाक राय पेश की है।

महेश भट्ट अपनी बेबाक और अलग राय के लिए जाने जाते हैं। महेश भट्ट के मुताबिक़ बॉलीवुड में में प्रोफेशनल सक्सेस और इमोशनल फ्रीडम कभी भी एक तराजू में नहीं तौले जा सकते। भट्ट ने कहा की बॉलीवुड में ऐसी कई एक्ट्रेसेस हैं जिन्होंने आला मक़ाम हासिल किया है।यह भी पढ़ें: प्यार में ठोकर खाए विराट और कंगना एक हुए

उन अदाकाराओं के पास बेशुमार दौलत भी है। उनके पास वो सब है जिसे हासिल करने का सपना हर कोई देखता है। लेकिन इसके बावजूद उन एक्ट्रेसे पर अत्याचार होता है और वो कोई और नहीं बल्कि उनके अपने ही करते हैं। भट्ट के मुताबिक़ ज़्यादातर एक्ट्रेसेस अत्याचार सहती हैं लेकिन कुछ उसके खिलाफ़ आवाज़ उठाती हैं अपना रास्ता चुनती हैं और उसपर चलती हैं।यह भी पढ़ें: प्रत्यूषा के पिता ने कहा राहुल गुनाहगार है उसे फांसी दो 

 

भट्ट ने यह भी कहा है कि फिल्म और टीवी इंडस्ट्री की ज्यादातर एक्ट्रेस सार्वजनिक तौर पर भले नारी सशक्तिकरण की बातें करती हों, मगर सच्चाई है कि खुद उनके साथ इसी इंडस्ट्री में घर के नौकरों से भी ज्यादा बुरा बर्ताव होता है। भट्ट का यह बयान चौंकानेवाला ज़रूर हैं लेकिन यह बॉलीवुड का एक कड़वा सच भी उजागर करता है।