बॉलीवुड के खिलाड़ी यानी अक्षय कुमार का नाम इंडस्ट्री के कुछ उन स्टार्स में शामिल है जिन्होंने बेशुमार सफलता हासिल की है. एक आम जिंदगी से बड़े स्टार बनने तक का सफर वे कई बार अपनी जुबानी लोगों को सुना चुके हैं. दिल्ली के चांदनी चौक की गलियों से मुंबई फिल्म इंडस्ट्री तक का उनका सफर काफी मुश्किलों भरा रहा है. एक समय ऐसा था जब फिल्म इंडस्ट्री में खान एक्टर्स का राज हुआ करता था. उस समय अक्षय को कोई बड़ा स्टार नहीं समझता था लेकिन अक्षय ने मेहनत के दम पर अपना वजूद को एक अस्तित्व दिया है.Also Read - Crime News: प्रेमिका की कहीं और होने वाली थी शादी, प्यार में नाकाम युवक उसके घर पहुंचा और...

इतने करोड़ कमा लेगी Ayushmann Khurrana की ‘Dream Girl’, कुछ तो अलग बात है Also Read - सात समंदर पार से आई व‍िदेशी लड़की ने भारत में आकर प्रेमी के गांव में साथ ल‍िए फेरे

अक्षय कुमार आज अपना 52वां जन्मदिन सेलिब्रेट कर रहे हैं. आज आलम यह है कि वो बॉलीवुड के सबसे महंगे एक्टर में गिने जाते हैं. एक ओर जहां अन्य सुपरस्टार्स की साल में एक या दो फिल्में आती हैं वहीं अक्षय कुमार साल में 3-4 फिल्में कर लेते हैं. खास बात ये है कि उनकी सारी फिल्में अच्छा बिजनेस करती हैं और लोगों के दिलों में घर कर जाती हैं. लेकिन ये सब हासिल करना इतना आसान नहीं था अक्षय के लिए. इसके पीछे उनकी कड़ी मेहनत और संघर्ष जुड़ा हुआ है. Also Read - मोहब्बत की ऐसी मिसाल, पति ने पत्नी को दिया ताजमहल, लोगों ने कहा-कोई इतना भी प्यार कैसे कर सकता है

अक्षय कुमार 1967 में अमृतसर में एक आर्मी फैमिली में पैदा हुए. पिता हरिओम भाटिया सेना में ऑफिसर थे. अक्षय कुमार का असली नाम राजीव हरिओम भाटिया है. अक्षय का बचपन पुरानी दिल्ली के चांदनी चौक इलाके में बीता. उसके बाद वो मुंबई गए जहां खालसा कॉलेज में अपनी पढ़ाई करने लगे. अक्षय ने पढाई बीच में ही छोड़ दी और बैंकाक चले गए मार्शल आर्ट की ट्रेनिंग लेने. बैंकॉक में अपना खर्च चलाने के लिए उन्होंने वेटर की नौकरी भी की.

बचपन में एकबार के पिता ने पूछा कि क्या बनना चाहते हो तो अक्षय ने कहा एक्टर. बैंकाक में अक्षय के एक दोस्त ने उन्हें मॉडलिंग करने की सलाह दी जिसके बाद उन्होंने कोशिश शुरू कर दी. अपना पहला पोर्टफोलियो बनवाने के लिए अक्षय कुमार को 15 महीने मुफ्त में एक फोटोग्राफर के साथ काम करना पड़ा था. एक दिन वो अपना पोर्टफोलियो लेकर किसी फिल्म स्टूडियो गए और वहां उनको मिली पहली लीड एक्टर की फिल्म दीदार और यहीं से राजीव हरिओम भाटिया बन गए अक्षय कुमार.

अक्षय कुमार ने 1990 के दशक में अपने फिल्मी कैरियर की शुरुआत की थी. आज वो 100 से भी अधिक फिल्मों में काम कर चुके हैं. शुरूआत में खिलाड़ी सीरीज की फिल्में में काम करने की वजह से लोग उन्हें खिलाड़ी कुमार के नाम से जानने लगे थे. उसके बाद मोहरा, सुहाग, सपूत और जानवर जैसी फिल्मों ने उन्हे एक समर्थ अभिनेता के रूप में स्थापित किया. धड़कन, अंदाज और नमस्ते लंदन जैसी फिल्मों ने उनकी रोमांटिक एक्टर की छवि को निखारा.

View this post on Instagram

Coming soon, to an Instagram account near you! @ra_rathore

A post shared by Akshay Kumar (@akshaykumar) on

अक्षय की कॉमेडी के तो क्या कहने! हेरा फेरी, मुझसे शादी करोगी, गरम मसाला, भागम भाग, भूल भुलैया, सिंह इज किंग ने तो धमाल ही मचा दिया. राउडी राठौर और बॉस जैसी फिल्मों ने कामयाबी के नए झंडे गाड़ दिए. अक्षय कुमार ने कई हिट फिल्में दी हैं, लेकिन एक ऐसी फिल्म है जो वो कभी अपने बच्चों को नहीं दिखाना चाहते. एक इंटरव्यू में अक्षय ने बाताया कि वो नहीं चाहते कि उनके बच्चे फिल्म गरम मसाला देखें. इस फिल्म में वह एक साथ 4 लड़कियों को डेट करते हैं.इंडिया डॉट कॉम की पूरी टीम की तरफ से अक्षय कुमार को जन्मदिन पर शुभकामनाएं.

बॉलीवुड और मनोरंजन जगत की ताजा ख़बरें जानने के लिए जुड़े रहें  India.com के साथ