अभिनेत्री आलिया भट्ट को लोगों को रूलाने में बहुत मजा आता है. दरअसल, आलिया उस वक्त बेहद खुश होती हैं जब- जब वह अपनी फिल्मों के जरिए लोगों को रोने पर मजबूर कर देती हैं. आलिया ने फिल्म ‘राजी’ के सह-कलाकार विक्की कौशल के साथ मीडिया से बातचीत की. आलिया ने यह पूछे जाने पर कि क्या उन्होंने ‘राजी’ को दर्शकों से सकारात्मक प्रतिक्रिया मिलने की उम्मीद की थी तो उन्होंने कहा, “मैंने इस तरह की प्रतिक्रया की उम्मीद नहीं की थी. शुरू से हमने सोचा कि हम एक छोटी फिल्म बना रहे हैं, इसलिए हमें नहीं लगा कि हमें दर्शकों से इतना प्यार मिलेगा.” आलिया ने कहा कि फिल्म को मिली शानदार प्रतिक्रिया से हम सभी गर्व महसूस कर रहे हैं और वह बेहद खुश हैं, खासकर मेघना गुलजार को लेकर क्योंकि फिल्म की रिलीज के पहले वह काफी नवर्स महसूस कर रही थीं. आलिया ने  बताया , “फिल्म की रिलीज के पहले वह (मेघना) बहुत नर्वस थीं, लेकिन दर्शकों ने काफी प्यार दिया, जिसके लिए हम आभारी हैं. फिल्म को देखने के बाद कुछ लोग रो रहे थे और जब मैं अपनी फिल्मों के जरिए लोगों को रुलाती हूं तो सच में खुशी महसूस करती हूं. ऐसे में मुझे लगता है कि हमने अपना काम अच्छे से पूरा किया है.”‘राजी’ के बाद आलिया की झोली में ‘गली बॉय’, ‘कलंक’ और ‘ब्रह्मास्त्र’ जैसी फिल्में हैं.

बॉक्स ऑफिस पर ‘राजी’ ने की पहले दिन धमाकेदार एंट्री, कमाए इतने करोड़
मेघना गुलजार की फिल्म राजी 11 मई को रिलीज हो गई है. फिल्म ने बॉक्स ऑफिस पर पहले दिन धमाकेदार एंट्री करते हुए 7.50 करोड़ की कमाई कर ली है. इस फिल्म में आलिया भट्ट ने एक जासूस की भूमिका निभाई है. वहीं इस फिल्म में अपने ज़माने की टॉप एक्ट्रेस सोनी राजदान भी हैं जिन्होंने आलिया भट्ट की मां का किरदार निभाया है. राजी को क्रिटिक्स की तरफ से भी अच्छे रिव्यू मिले हैं. फिल्म ट्रेड एनालिस्ट तरन आदर्श ने इसे 4 स्टार्स दिए हैं.

Image result for raazi, india.com

फिल्म की कहानी
अगर फिल्म की कहानी के बारे में बात करे तो फिल्म ‘राजी’ की कहानी 1971 भारत-पाक युद्ध पर बेस्ड है. कहानी की शुरुआत पाकिस्तान से होती है जहां पाकिस्तान , भारत से बदला लेने और उसे तबाह करने का प्लान बना रहा होता है. लेकिन इसकी भनक एक कश्मीरी बिज़नसमैन हिदायत खान (रजित कपूर) को मालूम चल जाती है.हिदायत एक बिजेनसमैन होने के साथ ही एक भारतीय जासूस भी है जो कि बड़ी ही चालाकी से ख़ुफ़िया सूचनाओं को भारत तक पहुंचाता है. इन सबके साथ ही हिदायत की दोस्ती पाकिस्तानी आर्मी ब्रिगेडियर परवेज सैय्यद (शिशिर शर्मा) से है. जब हिदायत को ये मालूम चलता है कि पाकिस्तान, भारत पर हमला करने की तैयारी में है. तब वह अपनी दोस्ती का सहारा लेकर अपने देश भारत की रक्षा के लिए एक बड़ा फैसला लेता है.हिदायत अपनी बेटी सेहमत (आलिया भट्ट) के लिए पाकिस्तानी ब्रिगेडियर के बेटे इकबाल (विक्की कौशल) का हाथ मांगता है. जो कि आर्मी में है. जब सहमत को अपने पिता के इस मंसूबे के बारे में पता चलता है तब वह बिना किसी डर के “राजी” हो जाती है. फिर शुरू होती है सहमत खान की कड़ी ट्रेनिंग, उसे भारत की आंख और कान बनाकर पाकिस्तान भेजा जाता है.