मेगास्टार अमिताभ बच्चन को आठ साल तक यह पता नहीं था कि वह टीबी जैसी बीमारी से पीड़ित थे और उन्होंने कहा कि उन्हें यह बात लोगों को बताने में बुरा नहीं लगता कि वह टीबी के मरीज रह चुके हैं। अमिताभ एनडीटीवी के ‘स्वास्थ्य इंडिया’ की लॉन्चिग के मौके पर डॉक्टर हर्षवर्धन से बातचीत कर रहे थे, और उन्होंने उनसे आग्रह किया कि नियमित जांच के प्रति लोगों को जागरूक किया जाए, ताकि शुरुआत में ही बीमारी का पता चल सके.

Mission Mangal Box Office Collection: अक्षय की मिशन मंगल ने चार दिन में कमाए इतने करोड़, बॉक्स ऑफिस पर चमक ला दी

बिग बी ने कहा, “मैं हर समय अपने व्यक्तिगत उदाहरण को सबके सामने लाता रहता हूं और कोशिश करता हूं कि आप सबको इसके प्रति जागरूक कर सकूं और मुझे यह सार्वजनिक तौर पर कहते हुए बुरा नहीं लगता है कि मैं एक टीबी का और हेपेटाइटिस बी का मरीज रहा हूं.”

अमिताभ (76) कई सारे स्वास्थ्य अभियानों जैसे पोलियो, हेपेटाइटिस-बी, टीबी और मधुमेह से जुड़े रहे हैं। उन्होंने लोगों से अपील की कि वे इन बीमारियों की जांच करवाएं और इलाज करवाएं.

 

बॉलीवुड और मनोरंजन जगत की ताजा ख़बरें जानने के लिए जुड़े रहें  India.com के साथ