मुंबई: अमिताभ बच्चन ने सोशल मीडिया पर प्रशंसकों के साथ एक वाकया साझा किया है कि कैसे एक बार दिवाली पर बम उनके हाथ में फट गया था. जिसके बाद हाथ को ठीक कराना पड़ा था. बिग बी ने ट्वीट किया, “उंगलियां .. पुनर्गठन के लिए मानव शरीर का सबसे कठिन अंग होती हैं. लगातार मूवमेंट की आवश्यकता होती है . मूवमेंट रुकते ही वे कठोर हो जाती है. मुझे पता है . एक बार दिवाली पर मेरे हाथ में बम फटा था. मुझे मेरी तर्जनी के साथ अपने अंगूठे का संचालन करने में 2 महीने लग गए थे!! . और अब कितने क्रिएटिव हैं. Also Read - लॉकडाउन में इस बात से बहुत परेशान हो गए अमिताभ बच्चन, फैंस से मांगी माफी


उन्होंने याद करते हुए कहा कि कैसे उन्हें परिस्थितियों के बावजूद शूट करना पड़ा था, क्योंकि उनके पास तब कुछ बड़ी फिल्में थीं, ‘इंकलाब’ और ‘शराबी’ जिनकी शूटिंग चल रही थी. दोनों फिल्में 1984 में रिलीज हुईं. बिग बी ने अपने ब्लॉग में लिखा, “दिवाली का बम जो मेरे हाथ में फट गया और उसने मेरा हाथ उड़ा दिया . और उसके बाद किस तरह हाथों का पुनर्गठन एक बोझिल प्रक्रिया थी . काम जारी रहा . स्टाइल के लिए हाथों पर एक रुमाल लपेटा गया था . या फिर एटीट्यूड के लिए जेब में रखा जाता था. लेकिन काम जारी रहा, क्योंकि उसका जारी रहना आवश्यक था. इंकलाब पहली थी. जो एक मद्रास प्रोडक्शन थी. और शराबी दूसरी .दोनों के पर्दे के पीछे की कहानियां शानदार रहीं. अब उनके बारे में बात करना समझदारी नहीं है . वे बिना लिखित सर्वश्रेष्ठ हैं और अज्ञात हैं.”

वहीं जल्द ही अमिताभ बच्चन की ‘गुलाबो सीताबो’ रिलीज होने वाली है. यह फिल्म 12 जून को एमेजन प्राइम पर रिलीज हो रही है. फिल्म में आयुष्मान खुराना भी हैं.