महानायक अमिताभ बच्चन ने गुरुवार रात कहा कि अभिनेता से लेखक बने गोविंद नामदेव न केवल एक अच्छे अभिनेता हैं, बल्कि देशभक्त भी हैं. नामदेव की पुस्तक ‘मधुकर शाह बुंदेला’ के विमोचन के मौके पर अमिताभ ने कहा, “गोविंद जी न केवल एक महान अभिनेता हैं, बल्कि देशभक्ति से भरे व्यक्ति भी हैं. मैं इस अवसर का हिस्सा बनकर काफी गौरवांवित महसूस कर रहा हूं.” Also Read - अमिताभ बच्चन को लग रहा है इस बात का डर, लॉकडाउन के दौरान कहीं अंधे ना हो जाएं

Propose day: भोजपुरी क्‍वीन मोनालिसा का बेजोड़ गाना, Faat Jaye Choli Ho को 90 लाख से ज्यादा लोगों ने देखा! Also Read - अमिताभ बच्चन ने लॉकडाउन में सप्लाई करने वालों को किया सलाम, ये वीडियो शेयर कर कहा...

उन्होंने कहा, “यह पहली बार है जब मुझे हिंदी पुस्तक के विमोचन के लिए आमंत्रित किया गया है और मुझे खुशी है.” Also Read - पीएम मोदी को पसंद आई बॉलीवुड शार्ट फिल्म 'फैमिली', लोगों से कहा जरूर देखें, बहुत बड़ा मैसेज छिपा है

इस किताब की कहानी 1842 के दौरान राजा मधुकर शाह की जीवन के इर्द-गिर्द घूमती है, जिसमें शासक के रूप में उनकी वीरता और बहादुरी को दर्शाया गया है.

नामदेव ‘सत्या’, ‘तक्षक’, ‘पुकार’, ‘राजू चाचा’, ‘सरकार राज’, ‘फिर भी दिल है हिंदुस्तानी’ जैसी बॉलीवुड फिल्मों के लिए पहचाने जाते हैं.

Image result for govind namdev, india.com

किताब के बारे में बात करते हुए, 68 वर्षीय अभिनेता ने कहा, “नेशनल स्कूल ऑफ ड्रामा (एनएसडी) से कोर्स खत्म करने के बाद मैं हमेशा फिल्मों के कारण व्यस्त कार्यक्रम के बावजूद नाटक में काम करने के लिए अपने पैतृक स्थान बुंदेलखंड जाता रहा हूं.”

Image result for govind namdev, india.com

उन्होंने कहा, “यह कहानी शेक्सपियर के नाटक से प्रेरित है जो ब्रिटिश शासन के दौरान बुंदेलखंड के ऐतिहासिक युग और राजा मधुकर शाह की वीरता को दर्शाती है.”

बॉलीवुड और मनोरंजन जगत की ताजा ख़बरें जानने के लिए जुड़े रहें  India.com के साथ.