मुंबई: अमिताभ बच्चन ने अपने बंगले जलसा पर मौसम के प्रभावों के बारे में जानकारी दी है, जो सालों पहले बनाया गया था. बिग बी ने अपने ब्लॉग पोस्ट में कहा है कि मानसून के दौरान अपने घर की सुरक्षा करना क्यों आवश्यक है. उन्होंने अपने ब्लॉग में लिखा, “बारिश के मौसम के दौरान मकानों का संरक्षण जरूरी होता जा रहा है, खासकर उन मकानों का जो सालों पहले बने हैं और अब उनमें रिसाव होने लगा है. जलसा करीब 80 के दशक के मध्य में बना था या शायद थोड़ा और बाद में. इसलिए समय और मौसम का उस पर प्रभाव पड़ता है.” Also Read - इन बॉलीवुड हस्तियों ने फादर्स डे पर अपने पिताओं को किया याद, शेयर किए इमोशनल नोट्स   

बच्चन ने अपने इंटरनेट केबल के बारे में बात करते हुए बारिश के मौसम में घर की सुरक्षा के बारे में बात की. उन्होंने कहा, “नेट वापस आ गया, मेरे छत पर केबल को लेकर कोई समस्या थी, केबल ताडपत्री में फंस गया था. ताडपत्री का इस्तेमाल हम इमारत की सुरक्षा के लिए करते हैं.” Also Read - अमिताभ बच्चन ने शेयर की 'जलसा' के बाहर फैन्स के साथ थ्रोबैक फोटो, कैप्शन में लिखी पिता की खास पंक्ति

दिग्गज अभिनेता ने बृहन्मुंबई नगर निगम (बीएमसी) के अपने घर के पास के क्षेत्रों को साफ करने के प्रयासों की भी प्रशंसा की, जो मुंबई में आए चक्रवात निसर्ग के कारण गंदगी से भर गया था.

वहीं इसी बीच कोरोना संकट में फंसे श्रमिकों को बालीवुड के सुपर स्टार कहे जाने वाले अमिताभ बच्चन ने बड़ा तोहफा दिया है. उन्होंने 187 कामगारों को बुधवार को विमान से गोरखपुर भेजवाया है. अमिताभ ने हाजी अली ट्रस्ट के सहयोग से मुंबई में फंसे 187 श्रमिकों को इंडिगो के बोइंग विमान से बुधवार को गोरखपुर भेजवाया. गोरखपुर एयरपोर्ट पहुंचे श्रमिक जब बाहर निकले तो खुशी के मारे उनका ठिकाना न रहा.

सूत्रों के मुताबिक, अमिताभ और हाजी अली ट्रस्ट ने न केवल गोरखपुर, बल्कि यूपी के कुछ और भी शहरों के मजदूरों को उनके घर भेजने के लिए विमान का खर्च उठाया है.