बॉलीवुड सुपरस्टार अमिताभ बच्चन ने शनिवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से बातचीत करते हुए कहा कि वह स्वच्छता संदेश फैलाने के लिए टीवी को प्रभावी तरीका मानते हैं. अमिताभ ने ‘स्वच्छता ही सेवा’ अभियान के लॉन्च के मौके पर नमो एप के जरिए मोदी से मुखातिब होते हुए कहा, “चार साल पहले आपने देश में स्वच्छता अभियान की शुरूआत की थी. मैंने भी देश का नागरिक होने के नाते इससे जुड़ने का फैसला किया था. मैं मुंबई में वर्सोवा बीच की सफाई अभियान सहित कई स्वच्छता अभियानों से जुड़ा हुआ हूं.” Also Read - 'बड़े मियां छोटे मियां' के 22 साल, रवीना टंडन ने शेयर किया बिग बी और गोविंदा से जुड़ा ये दिलचस्प किस्सा

उन्होंने कहा, “लोग जो भी कचरा समुद्र में फेंकते हैं, समुद्र वह हमें वापस कर देता है, जो समुद्र तटों पर देखा जा सकता है. जब मैं स्वच्छता अभियान से जुड़ा तो मैंने देखा कि हमें कूड़ा बाहर निकालने के लिए जमीन खोदनी पड़ती है. इस तरह लोगों ने जमीन से कूड़ा निकालने के लिए मशीन की मांग की और समुद्र तटों से कूड़ा हटाने के लएि ट्रैक्टर की मांग की, जो मैंने उन्हें उपलब्ध कराए. मैं स्वच्छता अभियान फैलाने के लिए टीवी को सबसे सशक्त माध्यम मानता हूं.”

उन्होंने कहा, “लोगों को अपने आसपास के क्षेत्र को साफ रखने पर ध्यान देना चाहिए.” अमिताभ ने कहा, ‘हम एक टीवी चैनल पर ‘क्लीनाथॉन’ नाम के एक अभियान से जुड़े हैं. मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस और मैं स्वच्छता के संदेश के साथ अस्पताल भी गए.” नमो एप के जरिए मोदी से उद्योगपति रतन टाटा भी मुखातिब हुए.

रतन टाटा ने कहा, “ऐसे अभियान के साथ जुड़ना बहुत सम्मान की बात है, जो देश के हर नागरिक का सपना होना चाहिए. देश को मजबूत बनाने के लिए नींव को मजबूत बनाना जरूरी है और यह नींव हमारे लोगों की सेहत है.”