नई दिल्ली: बॉलीवुड के मेगास्टार अमिताभ बच्चन(Amitabh Bachchan) कल रात को कोरोना वायरस (Coronavirus) से संक्रमित पाए गए. अमिताभ के कोविड-19 (Covid-19) से संक्रमित होने की खबर जैसे ही फैंस को लगी चारो तरफ से उनके स्वास्थ्य के लिए दुआएं मांगी जानें लगी. अमिताभ बच्चन (Amitabh Bachchan Health) को मुंबई के नानावती हॉस्पिटल में इलाज के लिए भर्ती कराया गया है. शनिवार की रात को अमिताभ बच्चन को नानावती हॉस्पिटल लाया गया था. संकट की इस दौर में अमिताभ लोगों का हौंसला बढ़ाने में लगे हुए थे. हाल ही में उन्होंने अपने फैंस के लिए अपने पिता हरिवंश राय बच्चन की एक कविता भी शेयर की थी. Also Read - यूपी के डिप्टी सीएम की बिगड़ी तबियत, बैठक के दौरान नाक से निकलने लगा खून

दुनिया में करोड़ों लोग अमिताभ बच्चन को अपना आदर्श मानते हैं और अमिताभ खुद भी अपने फैंस से हमेशा सोशल मीडिया के माध्यम से जुड़े रहते हैं. जब से कोरोना महामारी का दौर शुरू हुआ है तब से अमिताभ सोशल मीडिया में लगातार एक्टिव हैं और इस बीमारी से लड़ने के लिए लोगों की हौसला हफजाई कर रहे हैं. अमिताभ शनिवार को खुद कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं और इससे ठीक तीन दिन पहले उन्होंने पिता हरिवंश राय बच्चन को याद करते हुए अग्निपथ की कविता ‘AGNIPATH AGNIPATH AGNIPATH ‘ फैंस के साथ शेयर की थी. Also Read - पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी कोरोना संक्रमित, खुद ट्वीट कर दी जानकारी

अमिताभ बच्चन (Amitabh Bachchan) ने लिखा अपने फैंस को कोरोना के खिलाफ ताकत और दृढ़शक्ति मजबूत करने के इरादे लिखा था:

“सुबह की खुशी, हमेशा मजबूत रहे, सावधानी बरतें, सब सही हो जाएगा.
तू न झुकेगा कभी ; तू न थमेगा कभी ,तू न झुकेगा कभी ; तू न थमेगा कभी ,
कर शपथ, कर शपथ, कर शपथ ,
अग्निपथ अग्निपथ अग्निपथ.”

अमिताभ के करोड़ों चाहने वाले हैं और अब उनके कोरोना पीड़ित होने के बाद चारों तरफ से सिर्फ यही कामना की जा  रही है कि वे जल्द से जल्द ठीक हो जाएं. अमिताभ इस संकट के समय में लगातार अपने फैंस और लोगों से इंट्रैक्ट कर रह हे थे. वे लगाता सोशल मीडिया में अपनी कविता के माध्य से लोगों को हिम्मत दे रहे थे. आठ तारीख को भी उन्होंने अपनी आवाज में एक कविता फैस को शेयर की थी.

कविता के बोल थे ‘गुजर जाएगा, गुजर जाएगा, वक्त ही तो है गुजर जाएगा’. बता दें कि शनिवार रात को खुद अमिताभ बच्चन ने ट्वीट करके अपने कोरोना पीड़ित होने की खबर शेयर की थी. उन्होंने उन लोगों से अपना कोरोना टेस्ट कराने की अपील भी की थी जो लोग पिछले दस दिनों में उनसे मिले.