नई दिल्ली: बॉलीवुड के महानायक अमिताभ बच्चन को भारतीय सिनेमा में उनके अमूल्य योगदान के लिए दादा साहेब फाल्के अवार्ड से नवाजा गया है. अमिताभ बच्चन का भारतीय सिनेमा का सफर शानदार रहा है लेकिन एक समय ऐसा भी आया जो उनके लिए सबसे मुश्किलों भरा रहा. वो समय था जुलाई 1982 से सितंबर 1982 के बीच का. मनमोहन देसाई की फिल्म कुली के सेट पर हुए जानलेवा हादसे में बिग बी दो महीने तक अस्पताल में रहे. उसके बाद जब वो 24 सितंबर 1982 को घर लौटे तो उनका जोरदार स्वागत किया गया. इसको लेकर बिग बी ने लिखा है कि वह दिन पहली बार था जब उन्होंने अपने पिता की आंखों में आंसू देखे थे. 37 साल बाद, अस्पताल में दो महीने के इलाज के बाद बिग बी की घर वापसी का एक वीडियो इंटरनेट पर वायरल हो रहा है.

 

वीडियो को बिग बी के एक प्रशंसक ने सोशल मीडिया पर साझा किया है. वीडियो में अमिताभ बच्चन को कार से बाहर निकलते हुए देखा जा सकता है और अपने पिता हरिवंश राय बच्चन के पैर छूते हुए और उनसे गल मिलते हुए देखा जा सकता है. इसके बाद अमिताभ बच्चन पूरी तरह से ठीक होने की जानकारी के लिए एक छोटा वीडियो भी जारी करते हैं. जिसमें उन्हें अपने प्रशंसकों का शुक्रिया अदा करते हुए सुना जा सकता है. इसमें वो कहते हैं कि आज, 24 सितंबर, तारीख से ठीक दो महीने पहले का समय था जब मैं घायल हुआ था और सेंट फिलोमेना अस्पताल के डॉक्टरों के प्रयासों के चलते आप मुझे सकुशल देख रहे हैं. मैं बॉम्बे के ब्रीच कैंडी अस्पताल के डॉक्टरों और नर्सों समेत सभी फैंस का आभारी हूं. कहा कि मैं आप में से बहुत से लोगों को नहीं जानता. फिर भी आपने मेरे लिए प्रार्थना की, मैं इसके लिए आभारी हूं.

 

ऐसे हुआ था हादसा
अमिताभ बच्चन बंगलुरु (तब बैंगलोर) में कुली की शूटिंग कर रहे थे, जब उन्होंने सह-कलाकार पुनीत इस्सर के साथ एक एक्शन सीक्वेंस के दौरान हादसा हुआ. इस दौरान बिग बी की तिल्ली टूट गई थी और उसे बेहोशी की हालत में सेंट फिलोमेना अस्पताल ले जाया गया था. इसके तुरंत बाद उन्हें मुंबई ले जाया गया और सीधे ब्रीच कैंडी अस्पताल में भर्ती कराया गया. देश भर के प्रशंसकों ने अमिताभ बच्चन के ठीक होने की प्रार्थना की. क्योंकि वह गंभीर हालत में अस्पताल में रहे और उनके बचने की कोई उम्मीद नहीं थी.

बिग बी के ठीक होने की प्रार्थना करने नंगे पांव सिद्धी विनायक मंदिर जाती थीं जया बच्चन
लोग बताते हैं कि जब अमिताभ बच्चन की हालत गंभीर थी तो उनकी अभिनेत्री-पत्नी जया बच्चन, उनके ठीक होने की प्रार्थना के लिए ब्रीच कैंडी से सिद्धी विनायक मंदिर तक हर रोज नंगे पांव जाती थीं. और भगवान गणेश से बिग बी के जल्द स्वस्थ होने की प्रार्थना करती थीं. बता दें कि बाद में अमिताभ बच्चन की फिल्म ‘कुली’ 14 नवंबर 1983 को रिलीज़ हुई, जो कि बॉक्स ऑफिस पर ब्लॉकबस्टर साबित हुई.