फिल्म निर्माता विक्रमादित्य मोटवाने, अनुराग कश्यप, मधु मेंटेना और विकास बहल ने अपने संयुक्त बैनर और प्रोडक्शन हाउस ‘फैंटम फिल्म्स’ को बंद करने का फैसला किया है. फैंटम फिल्म्स को शुरू करने के सात साल बाद यह फैसला लिया गया है. एक प्रेस रिलीज में इस फैसले की वजह ना बताते हुए शनिवार को कहा गया कि चारों पार्टनर अब स्वतंत्र रूप से अपनी रचनात्मकता का इस्तेमाल करना चाहते हैं और वे समय-समय पर एक-दूसरे के साथ मिलकर काम करते करेंगे.

साल 2011 में शुरू हुए इस बैनर के तहत ‘‘लुटेरा’’, ‘‘क्वीन’’, ‘‘अग्ली’’, ‘‘एनएच10’’, ‘‘बॉम्बे वेलवेट’’, ‘‘मसान’’, ‘‘उड़ता पंजाब’’, ‘‘रमन राघव 2.0’’ और ‘‘ट्रैप्ड’’ जैसी फिल्में बनी हैं. फैंटम फिल्म्स के प्रोडक्शन वाली आखिरी फिल्म ऋतिक रोशन अभिनीत ‘‘सुपर 30’’ होगी. विकास बहल के निर्देशन वाली यह फिल्म अगले साल 25 जनवरी 2019 को रिलीज होगी.

मोटवाने ने एक बयान में कहा, ‘‘विकास, मधु, अनुराग और मैंने फैंटम में हमारी साझेदारी को खत्म करने और राहें जुदा करने का फैसला किया है. यह मेरी जिंदगी की जुनूनी, बड़ा सफर और सबसे खूबसूरत पार्टनरशिप रही है.’’ उन्होंने कहा, ‘‘मेरे तीन पार्टनर हर सुख-दुख में मेरे साथ रहे और पिछले सात वर्षों में उन्होंने जो प्यार तथा समर्थन दिया उसका आभार जताने के लिए शब्द नहीं है. मैं उन्हें आगे के सफर के लिए शुभकामनाएं देता हूं और उम्मीद करता हूं कि बेहतर समय में एक बार फिर हमारी राहें मिलेंगी.’’

अनुराग ने कहा कि फैंटम एक गौरवशाली सपना था और सभी सपनों का अंत होता ही है. उन्होंने कहा, ‘‘हमने अपना सर्वश्रेष्ठ दिया और हम सफल हुए और विफल हुए लेकिन मैं जानता हूं कि निश्चित तौर पर हम सभी मजबूत और समझदार हैं तथा अपने-अपने रास्तों से अपने सपनों को पूरा करेंगे. हम एक-दूसरे को शुभकामना देते हैं.’’

अनुराग, मोटवाने और विकास का आभार जताते हुए मेंटेना ने कहा कि फैंटम एक प्रोड्यूसर के तौर पर उनके करियर में हुई सबसे अच्छी चीज थी. उन्होंने कहा, ‘‘हमारा सात साल का गौरवशाली सफर रहा है और मुझे लगता है कि कई बार तो शादियां भी खत्म हो जाती हैं. उम्मीद है कि हम दोस्त बने रहेंगे और भविष्य में अपनी-अपनी फिल्मों में एक साथ काम करेंगे. हम एक-दूसरे को शुभकनामनाएं देते हैं.’’

(इनपुट-एजेंसी)