फिल्म निर्माता अनुराग कश्यप अपनी फिल्मों के जरिए हमेशा से सुर्खियों में बने रहते हैं. उड़ता पंजाब के समय सेंसर बोर्ड ने उनकी फिल्म को तयशुदा पैरामीटर्स का उल्लंघन बताया था. ये बात इतनी बढ़ गई थी कि इंडस्ट्री से स्टार्स और डायरेक्टर्स ने मिलकर एक प्रेस कॉन्फ्रेंस की थी जिसमें अनुराग कश्यप ने अपने विचार रखे थे. अनुराग कश्यप की हाल ही में आई फिल्म ‘मनमर्जियां’ ने कुछ सिखों को नाराज कर दिया है.

इस बारे में अनुराग का कहना है कि अभिषेक बच्चन, तापसी पन्नू और विकी कौशल स्टारर यह फिल्म तीन लोगों की कहानी है न कि सिख धर्म की कहनी है. उन्होंने हालांकि माफी मांगते हुए कहा कि उनका इरादा समुदाय को ठेस पहुंचाने का नहीं था. एक रिपोर्ट के मुताबिक, अंबाला में सिख समुदाय के लोगों ने मनमर्जियां के एक दृश्य को लेकर नाराजगी व्यक्त की थी, जिसमें सिख जोड़े की भूमिका निभाने वाले अभिषेक और तापसी को धूम्रपान करते हुए दिखाया गया है.

कश्यप ने इसके जवाब में ट्वीट कर कहा, “‘मनमर्जियां’ तीन लोगों की कहानी है न कि सिख धर्म की. अगर कोई सचमुच आहत हुआ है तो उनसे मैं माफी मांगता हूं, लेकिन मैं यह गुजारिश करना चाहूंगा इसे गैरजरूरी राजनीति न बनाएं, क्योंकि यह ऐसा नहीं है.” उन्होंने कहा, “मैं हमेशा चीजों को इस तरह से रखता हूं कि वे बिना किसी एजेंडे के हों.

इसके अलावा उन्होंने कहा, ”टेक्नोलॉजी के कारण हम कोई सीन नहीं काट सकते और इससे कहानी पर भी असर पड़ेगा. इसलिए मैं इसे निश्चित रूप से नहीं काटूंगा. जिन्हें वास्तव में चोट पहुंची है, उनसे मैं वास्तव में माफी मांगता हूं, क्योंकि ऐसा मेरा इरादा नहीं था.”