मुंबई. ऑस्कर पुरस्कार विजेता संगीतकार एआर रहमान ने अपनी बेटी के नकाब पहनने पर सोशल मीडिया पर हो रही आलोचना का जवाब दिया है. रहमान ने कहा कि उसे अपनी पसंद की पोशाक चुनने अधिकार है. दो ऑस्कर पुरस्कारों से सम्मानित अपने पिता रहमान की फिल्म ‘स्लमडॉग मिलेनियर’ के संगीत के दस साल पूरे होने के मौके पर रहमान की बेटी खतीजा साड़ी और नकाब पहनी नजर आई थीं, जिसपर सोशल मीडिया पर तीखी प्रतिक्रियाएं दी गई थीं. खतीजा ने इस समारोह के दौरान अपने पिता की तारीफ करते हुए कहा था कि ऑस्कर अवार्ड मिलने के बाद भी वे नहीं बदले हैं.

51 वर्षीय रहमान ने एक तस्वीर साझा की थी, जिसमें उनकी पत्नी और बेटी रहीमा बिना नकाब पहने दिखाई दे रही हैं, जबकि खतीजा का चेहरा नकाब से ढका हुआ है. खतीजा ने इस बारे में फेसबुक पर लिखा, मैं बताना चाहूंगी कि जो कपड़े मैं पहनती हूं या जो फैसले मैं जिंदगी में लेती हूं, उनका मेरे माता-पिता से कोई लेना-देना नहीं है. नकाब पहनना मेरा निजी फैसला था. मैं वयस्‍क हूं और अपनी जिंदगी के फैसले लेना जानती हूं.” खतीजा ने अपने पोस्ट में लिखा, ‘मुझे नहीं पता था कि अपने पिता के साथ स्टेज पर नकाब में नजर आने को लेकर इतनी प्रतिक्रियाएं आएंगी. लेकिन मैं कहना चाहती हूं कि मुझ पर नकाब पहनने के लिए किसी ने दबाव नहीं डाला. इसलिए मेरे पिता को लेकर यह कहना कि वे दोहरे मापदंड रखते हैं, गलत है.’

इससे पहले, खतीजा रहमान ने बीते दिनों मीडिया के साथ बातचीत में कहा था कि वह अपने पिता पर न केवल उनकी संगीत उपलब्धियों के कारण गर्व करती हैं, बल्कि उन मूल्यों के कारण भी गर्व करती हैं, जो उन्होंने एक पिता के रूप में उन्हें सिखाए. फिल्म ‘स्लमडॉग मिलियनेयर’ के ऑस्कर जीतने के 10 वर्ष पूरे होने के मौके पर मुंबई के धारावी में एक समारोह आयोजित किया गया था, जिसमें रहमान, उनकी बेटी खतीजा, गुलजार और अनिल कपूर सहित कई लोग शामिल हुए थे. समारोह में खतीजा ने कहा था, “दुनिया आपको आपके संगीत और आपके द्वारा जीते गए पुरस्कार के लिए जानती हैं लेकिन मैं आपसे हमें (रहमान के तीन बच्चों को) सिखाए मूल्यों के कारण असीम प्यार और सम्मान करती हूं. आपकी विनम्रता मेरे लिए सबसे ज्यादा मायने रखती है. ऑस्कर जीतने के बाद से आपका व्यवहार जरा भी नहीं बदला है. पिछले 10 सालों में आपमें कुछ भी नहीं बदला है सिवाए इसके कि आपने हमारे साथ समय बिताना कम कर दिया है.”

(इनपुट – एजेंसियां)