फिल्म ‘पानीपत’ में पहली बार संजय दत्त के साथ काम कर रहे अभिनेता अर्जुन कपूर के अनुसार, 59 वर्षीय संजू का स्वभाव बेहद नम्र और एक बच्चे की तरह है. आशुतोष गोवारिकर की फिल्म ‘पानीपत’ पानीपत की तीसरी लड़ाई पर आधारित है. यहां बेलवेडर स्टूडियो की लॉन्चिंग के दौरान संजय के साथ काम करने के अनुभव को साझा करते हुए अर्जुन ने कहा, “मैंने उनके साथ फिल्म में कुछ हिस्सों की ही शूटिंग की है. उनके साथ काम करने का अनुभव काफी अच्छा रहा. वो एक ऐसे इंसान हैं, जिनके अंदर मैंने एक बच्चे को देखा. हम सब संजू सर को एक अभिनेता और स्टार के तौर पर देखते हुए बड़े हुए हैं.”

Student of the year 2: टाइगर, तारा और अनन्या की फिल्म को मिला-जुला रिस्पॉस, कंगना की बहन रंगोली ने उड़ाया मजाक

 

View this post on Instagram

 

Keep ur eyes on the prize, but you still gotta watch ur back boy !!! #namasteenglandpromotions @the.vainglorious 📷 – @therawlab__

A post shared by Arjun Kapoor (@arjunkapoor) on

अभिनेता ने आगे कहा, “उनका व्यक्तित्व जीवन से बड़ा है, ऐसे में जब आप सेट पर उनके साथ चलते हैं, तब आपको यह महसूस होता है कि उनकी शख्सियत इतनी खास क्यों हैं. लेकिन वह एक बच्चे की तरह है. वह काफी विनम्र हैं और वह जिस तरह बातचीत करते हैं आपको ये महसूस नहीं होगा कि वे फिल्म में खलनायक हैं और आप उनके खिलाफ लड़ रहे हैं, क्योंकि वह मेरे गाल खींचने लगते हैं. ऐसे में उनके सामने किरदार में बने रहना मेरे लिए काफी मुश्किल होता है.”

 

View this post on Instagram

 

Horse riding #panipat @kritisanon

A post shared by Sunita Gowariker (@sunita.gowariker) on

बता दें, फिल्म पानीपत की शूटिंग के दौरान अर्जुन कपूर के नाक में चोट लग गई थी. इस पर उन्होंने पॉजेटिव रिएक्शन देते हुए कहा था कि एक्शन मूवी इस तरह की हल्की- फुल्की चोट लग जाया करती है.

(इनपुट आईएनएस)

बॉलीवुड और मनोरंजन जगत की ताजा ख़बरें जानने के लिए जुड़े रहें  India.com के साथ.