फिल्मकार अनुभव सिन्हा की फिल्म ‘आर्टिकल 15’ को केंद्रीय फिल्म प्रमाणन बोर्ड (सीबीएफसी) ने पांच सुझाए गए संशोधनों के बाद यूए प्रमाणपत्र दिया है. ‘आर्टिकल 15’ में दिखाया गया है कि समाज में जातिगत भेदभाव किस तरह से फैला हुआ है. फिल्म के निर्माताओं ने एनिमल वेलफेयर बोर्ड ऑफ इंडिया (एडब्ल्यूबीआई) से एक अनुपालन प्रमाण पत्र प्रस्तुत किया और फिल्म की शुरुआत में डिसक्लेमर के साथ हिंदी में एक वॉयसओवर जोड़ा. इसके बाद सेंसर ने आयुष्मान खुराना अभिनीत इस फिल्म को अभिभावकीय सलाह के साथ अप्रतिबंधित सार्वजनिक प्रदर्शन के लिए सही पाया.

100 करोड़ क्लब में कबीर सिंह की एंट्री, ईशान खट्टर ने शाहिद कपूर के बारे में कही ये बड़ी बात

सीबीएफसी की आधिकारिक वेबसाइट के मुताबिक, सेंसर बोर्ड द्वारा सुझाए गए संशोधनों में आग में एक झंडे के गिरने के एक दृश्य को हटाया गया, कुछ गालियों को हटाया गया और इसके साथ ही मारपीट के दृश्यों को 30 प्रतिशत कम किया गया.

130.37 मिनट लंबी इस फिल्म में ईशा तलवार, एम नास्सर, मनोज पहवा, सयानी गुप्ता, कुमुद मिश्रा और मुहम्मद जीशान अयूब भी शामिल हैं.

बनारस मीडिया वर्क्‍स और जी स्टूडियोज ने मिलकर इसे प्रोड्यूस किया है. यह फिल्म शुक्रवार को रिलीज होने वाली है.

(इनपुट आईएनएस)

बॉलीवुड और मनोरंजन जगत की ताजा ख़बरें जानने के लिए जुड़े रहें  India.com के साथ.