मुंबई: बॉलीवुड अभिनेत्री जैकलिन फर्नाडीज का कहना है कि मनोरंजन एक क्रूर और अप्रत्याशित व्यवसाय है, जहां चीजें हर शुक्रवार बदल जाती हैं. वर्ष 2009 में बॉलीवुड फिल्म ‘अलादीन’ के साथ करियर की शुरुआत करने वाली अभिनेत्री अब मुख्य धारा की एक व्यवसायिक अभिनेत्री हैं. किक, जुड़वा, हाउसफुल और ‘रेस’ फ्रेंचाइजी की सफलता का आभार जताते हुए अभिनेत्री ने कहा, ‘यहां सफलता या विफलता का कोई पुख्ता सूत्र नहीं है. Also Read - IPL 2020: सचिन तेंदुलकर ने युवा ओपनर रुतुराज गायकवाड़ को लेकर की भविष्वाणी, बोले-वह तो लंबी...

जैकलिन ने कहा कि मनोरंजन एक बहुत ही क्रूर व्यवसाय है, जहां हर शुक्रवार को चीजें बदल जाती हैं. सफलता या विफलता का कोई पुख्ता सूत्र नहीं है, लेकिन परिणाम आपको हर सप्ताह वास्तविकता से रूबरू कराता है. उन्होंने कहा कि कभी-कभी कई स्तरों पर हम प्रेरणाहीन हो जाते हैं, क्योंकि शुक्रवार को सबकुछ बदल जाता है – प्रशंसक, विचार और वफादारी सबकुछ. जब चीजें लगातार चलती हैं, तब हम भूल जाते हैं कि यह बहुत ही कमजोर दुनिया है, जहां हम सफलता के विपरीत पहलू से सिर्फ एक पल दूर होते हैं. Also Read - Sonagachi: सोनागाछी के सेक्स वर्कर हुए बेहाल, महामारी से बढ़ी मुश्किलें

उनका मानना है कि वह फिल्मों या उत्पादों के जिस ब्रांड का समर्थन करती हैं, वह उनके वास्तविक जीवन को प्रतिबिंब करता है. डिजिटल एक्टीविज्म के लिए पीटा इंडिया अवॉर्डस से सम्मानित अभिनेत्री ने कहा, जहां तक ब्रांड के प्रचार की बात है, तो कभी उन ब्रांडों का प्रचार नहीं करती, जिसकी विचारधारा और उत्पाद पर मुझे विश्वास नहीं होता. Also Read - Sonagachi: सबसे बड़ा Red Light Area है बंगाल का सोनागाछी, जानें क्या है इसके बनने की कहानी

यह पूछे जाने पर कि अगले पांच वर्षो में वह खुद को कहां देखती हैं? उन्होंने कहा मैं भविष्यवाणी नहीं कर सकती, क्योंकि फिल्म उद्योग में चीजें नाटकीय रूप से बदलती हैं और मैं कलाकार के रूप में बदल रही हूं. उन्होंने कहा इसलिए मेरे लिए हर तरह का मौका आपको आगे ले जाता है और हर एक गलत कदम आपको पीछे ले जाता है, इसलिए पांच वर्ष की योजना नहीं बनाई. मैं प्रवाह के साथ बहना चाहती हूं. रेमो डिसूजा द्वारा निर्देशित रेस-3 15 जून को रिलीज हो रही है.