पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी (Atal Bihari Vajpayee) अब हमारे बीच में नहीं रहे. दिल्ली स्थित एम्स अस्पताल में गुरुवार शाम को उन्होंने अंतिम सांस ली. वह यहां करीब 9 हफ्ते से भर्ती थे. अटल जी का राजनीति के साथ-साथ साहित्य, कविताओं और फिल्मों से भी खास नाता रहा. वाजपेयी जी और फिल्म अभिनेता दिलीप कुमार एक दूसरे के अच्छे दोस्त माने जाते थे. यही नहीं एक बार तो दिलीप कुमार ने अटल बिहारी वाजपेयी का पक्ष लेते हुए पाकिस्तान के तत्कालीन पीएम नवाज़ शरीफ को डांट भी लगा दी थी. यह मामला वाजपेयी की लाहौर यात्रा और 1999 के लाहौर घोषणा पत्र के दौरान का है. 1999 में माना जा रहा था कि लाहौर घोषणा पत्र के बाद भारत-पाक के रिश्ते सुधार जाएंगे. इस दौरान पाकिस्तान के कट्टरपंथी संगठनों ने इसका काफी विरोध किया था. यही नहीं मीनार-ए-पाकिस्तान के प्लेटफ़ॉर्म को ये कहकर धुलवाया था कि दुश्मन देश के प्रधानमंत्री ने इस पाक जमीं पर कदम रख दिया है. बात दें 1997 में दिलीप कुमार भी अटल बिहारी वाजपेयी के साथ बस से लाहौर गए थे. Also Read - कश्मीर में भारत 22 अक्टूबर को मनाएगा 'काला दिवस', 1947 में पाकिस्तान ने घाटी में कराई थी हिंसा

Also Read - आतंकियों को पनाह देना अब पाकिस्तान को पड़ेगा भारी, ग्रे लिस्ट से ब्लैक लिस्टेड भी हो सकता है

atal-3 Also Read - पाकिस्तान ने आंतकियों को दी खुली छूट, हाफिज सईद से कहा- कश्मीर में भेजो दहशतगर्द

हालांकि, इस यात्रा से भारत-पाक रिश्ते में कोई सुधार नहीं हुआ. पाकिस्तान के सेना प्रमुख जनरल परवेज मुशर्रफ ने भारत में करगिल में घुसपैठ शुरू कर दी और एक बार फिर से भारत-पाक के बीच तनाव बढ़ गया था.

File Photo of Atal Bihari Vajpayee

अटल ने उस दौरान गुस्से में कहा- एक तरफ शरीफ लाहौर में शांति की बातें करते हैं और दूसरी तरफ घुसपैठ. वाजपेयी ने जब इस मामले को लेकर शरीफ से बात की तब बात करते हुए अचानक ही फोन दिलीप कुमार को पकड़ा दिया. दिलीप कुमार ने उस समय नवाज शरीफ को बुरी तरह लताड़ा था. दिलीप ने कहा- ‘मियां साहिब, आप हमेशा अमन के समर्थक होने का दिखावा करते रहे हैं. हम जंग नही चाहते हैं. जिस तरह से हालात बिगड़ रहे हैं उन्हें काबू करने के लिए कुछ कीजिए ’

बॉलीवुड और मनोरंजन जगत की ताजा ख़बरें जानने के लिए जुड़े रहें  India.com के साथ.