भारतीय जनता पार्टी के दिग्गज नेता और पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की हालत बिगड़ने के बाद उन्हें दिल्ली के एम्स में लाइफ स्पोर्ट पर रखा गया है. वाजपेयी  साल 2004 के चुनाव तक राजनीति में सक्रिय थे. इस दौरान ही उनकी तबीयत बिगड़ने लगी. धीरे-धीरे वह राजनैतिक और सामाजिक गतिविधियों से दूर होने लगे. इस दौरान उनकी तबीयत में गिरावट जारी रही. वाजपेयी जी का साहित्य, कविताओं और फिल्मों से भी खास नाता रहा है. खासकर वे बॉलीवुड की दिग्गज अभिनेत्री हेमा मालिनी के बहुत बड़े फैन थे. उन्हें हेमामालिनी की फिल्में देखना बेहद पसंद था. एक इंटरव्यू के दौरान खुद हेमा ने इस बात का खुलासा किया था. अटल जी को हेमा मालिनी की 1972 में आई फिल्म सीता और गीता इतनी पसंद आयी थी कि उन्होंने इस फिल्म को 25 बार देखा था. 1972 में आई हेमा मालिनी की फिल्म सीता और गीता में हेमा का डबल रोल था और फिल्म के निर्देशक रमेश सिप्पी थे.


हेमा मालिनी ने अटल बिहारी वाजपेयी से मुलाकात का जिक्र करते हुए बताया था कि जब मैं उनसे मिली थी तो वे बात करने में भी हिचकिचा रहे थे. वहां मौजूद एक महिला ने बातचीत में बताया था अटल जी आपके (हेमा मालिनी) के बहुत बड़े प्रशंसक हैं. इन्होंने 1972 में आई आपकी फिल्म ‘सीता और गीता’ 25 बार देखी थी. इसलिये वह अचानक आपको सामने पाकर हिचकिचा रहे हैं.

Former PM Atal Bihari Vajpayee with President APJ Abdul Kalam and Russia President Vladimir Putin

बता दें कि वाजपेयी 1991, 1996, 1998, 1999 और 2004 में लखनऊ से लोकसभा सदस्य चुने गए. वह बतौर प्रधानमंत्री अपना कार्यकाल पूर्ण करने वाले पहले और अभी तक एकमात्र गैर-कांग्रेसी नेता हैं. 25 दिसम्बर, 1924  में जन्मे वाजपेयी ने भारत छोड़ो आंदोलन के जरिए 1942 में भारतीय राजनीति में कदम रखा.

 

बॉलीवुड और मनोरंजन जगत की ताजा ख़बरें जानने के लिए जुड़े रहें  India.com के साथ.