मुंबई: अभिनेता आयुष्मान खुराना Ayushmann Khurrana फिलहाल अपनी अगली फिल्म ‘शुभ मंगल ज्यादा सावधान’ shubh mangal zyada saavdhan की रिलीज का इंतजार कर रहे हैं और उनका कहना है कि हिंदी फिल्म जगत के कई लोगों ने पर्दे पर गे (समलैंगिक पुरुष) का किरदार निभाने के उनके फैसले पर उन्हें दोबारा सोचने को कहा था. आयुष्मान ने कहा, “मैं जो कुछ भी हूं, अपने परिवार की वजह से हूं. वे हमेशा मुझे अपना समर्थन देते रहे हैं और उन्हीं के चलते मैं अपनी जिंदगी के अहम फैसले ले पाया हूं. जब मैंने अभिनय में आने का फैसला लिया तो वे एक चट्टान की तरह मेरे साथ खड़े रहे.”

जयपुर लिटरेचर फेस्टिवल में भावुक हुईं दीया को लोगों ने किया जमकर ट्रोल, कहा- सस्ती ग्रेटा थनबर्ग

उन्होंने आगे कहा, “जब मैंने यह फैसला लिया कि मेरी फिल्में समाज की रूढ़िवादी सोच को तोड़ने वाली विषयों पर आधारित होंगी, तो उन्होंने इस पर भी मुझे अपना समर्थन दिया और इस पर लोग क्या कहेंगे, इस बारे में कभी भी न सोचने को कहा.” आयुष्मान ने आगे कहा कि इंडस्ट्री के कई लोगों ने पर्दे पर समलैंगिक शख्स की भूमिका को निभाने के उनके फैसले पर दोबारा सोचने को भी कहा.

उन्होंने कहा, “‘शुभ मंगल ज्यादा सावधान’ मेरी जिंदगी के सबसे अहम फैसलों में से एक है. इंडस्ट्री से कई सारे लोगों ने मुझे इस पर पुर्नविचार करने को कहा, क्योंकि किसी भी मुख्य हीरो ने पर्दे पर कभी भी समलैंगिक शख्स के किरदार को नहीं निभाया है, लेकिन मुझे पता था कि इस सोच को बदलने की जरूरत है और यही वह समय है. मुझे किसी तरह से बस यह पता था कि मुझे यह करना ही है और मैंने ऐसा करने का निश्चय किया.”