मुंबई: अभिनेता आयुष्मान खुराना का कहना है कि कला और सिनेमा मानसिकता को बदलने में काफी कुछ कर सकती हैं. उन्होंने अपनी हालिया रिलीज फिल्म ‘शुभ मंगल ज्यादा सावधान’ के संदर्भ में इस विषय पर बात की. आयुष्मान ने कहा, “यह फिल्म (शुभ मंगल ज्यादा सावधान) मेरे दिल के बहुत करीब है. समलैंगिक रिश्ते को बहुत पहले से ही वैद्य किया जा चुका है, हालांकि मेरा मानना है कि समाज द्वारा इसे स्वीकार कर लिए जाने के रास्ते में अभी हमें काफी लंबा सफर तय करना है.” Also Read - फिल्म 'बधाई हो' को हुए 2 साल, आयुष्मान खुराना ने बताई फिल्म की खासियत

उन्होंने आगे कहा, “‘शुभ मंगल ज्यादा सावधान’ भारत में व्याप्त समलैंगिक रिश्तों को लेकर मौजूद पूर्वाग्रहों की वास्तविकता का एक सारांश मात्र है और यह इस तरह की असाधारण कहानियों को आगे लाने का एक प्रयास भी है. मेरे ख्याल से, कला और सिनेमा मानसिकता को बदलने में काफी कुछ कर सकती हैं. इस फिल्म के साथ हमारा मकसद बस यही था कि भारत में समलैंगिक रिश्तों को लेकर बातचीत शुरू हो.” Also Read - कोरोना संकट के बीच अयोध्‍या में शनिवार से शुरू होगी रामलीला, राजनीतिक और बॉलीवुड कलाकार लेंगे हिस्सा

हितेश केवल्या द्वारा निर्देशित इस फिल्म का प्रसारण 18 अप्रैल को अमेजन प्राइम वीडियो पर किया जाएगा. इस पर आयुष्मान ने कहा, “मैं इस फिल्म का हिस्सा बनकर बहुत खुश हूं और अमेजन प्राइम वीडियो पर इसके डिजिटली प्रसारण को लेकर बेहद उत्साहित हूं, जहां यह दुनिया भर के दर्शकों के बीच अपनी पहुंच बना पाएगी.” Also Read - Sushant Singh Rajput Case में CBI बोली-जांच जारी है, क्‍लोजर रिपोर्ट वाली मीडिया की खबरें 'काल्पनिक'