‘विक्की डोनर’ में एक साहसी शुक्राणु दाता से लेकर ‘शुभ मंगल सावधान’ में गुप्त रोग से पीड़ित व्यक्ति और ‘अंधाधुन’ में एक अंधे संगीतकार से लेकर ‘आर्टिकल 15’ में एक आदर्श पुलिस अफसर के किरदान निभाकर आयुष्मान खुराना ने एक अभिनेता के तौर पर अपनी प्रतिभा व सीमाओं को साबित किया है.Also Read - 19 साल की उम्र में ताहिरा का आया था आयुष्मान पर दिल, बताया एक्टर ने इम्प्रेस करने के लिए क्या-क्या पापड़ बेले थे

Also Read - Ayushmann Khurrana की कुल संपत्ति होश उड़ा देगी, सिर्फ रूम रेंट भरते हैं इतने लाख- Net Worth, Income, Fees, Cars...

पाकिस्तानी एक्टर मोहसिन अब्बास ने की प्रेग्नेंट बीवी की बेरहमी से पिटाई, तस्वीरों में देखिए क्रूरता Also Read - बॉलीवुड के इन सेलेब्स ने की एक्ट्रेस Savita Bajaj की आर्थिक मदद, हाल ही में अस्पताल से मिली है छुट्टी

अब वह खुद को एक अलग स्तर पर ले जाने के लिए पूरी तरह तैयार हैं. वह आगामी फिल्म ‘शुभ मंगल ज्यादा सावधान’ में एक समलैंगिक व्यक्ति के किरदार से दर्शकों को प्रभावित करने की तैयारी में हैं. अभिनेता का कहना है कि समलैंगिक अधिकारों पर बनीं मुख्यधारा की व्यावसायिक फिल्में काफी महत्वपूर्ण हैं.

आयुष्मान फिलहाल अपनी चार फिल्मों को पर्दे पर लाने की तैयारी में जुटे हैं. इनमें ‘ड्रीम गर्ल’, ‘बाला’, ‘गुलाबो सिताबो’ और ‘शुभ मंगल ज्यादा सावधान’ शामिल हैं.

आयुष्मान ने बताया, “मुख्यधारा की व्यावसायिक फिल्मों में ‘शुभ मंगल ज्यादा सावधान’ काफी महत्वपूर्ण हैं. व्यावसायिक क्षेत्रों में समलैंगिक अधिकारों पर आधारिक फिल्में बनाना महत्वपूर्ण हैं, क्योंकि इस तरह आप परिवर्तित होने का प्रचार नहीं कर रहे हैं.”

इसके साथ ही अभिनेता ने यह भी कहा, “आप उन लोगों की बात कर रहे हैं जो समलैंगिकों के लिए पक्षपाती हैं. हमें लगभग हर व्यक्ति तक पहुंचना है. उन्हें यह फिल्म देखने की जरूरत है और यह भी समझने की जरूरत है कि समलैंगिकों को उनका अधिकार देना चाहिए.”

(इनपुट आईएनएस)

बॉलीवुड और मनोरंजन जगत की ताजा ख़बरें जानने के लिए जुड़े रहें  India.com के साथ.