फिल्म निर्देशक एस. एस. राजामौली ने कहा है कि उनकी फिल्म ‘बाहुबली’ का केंद्रीय किरदार केवल और केवल दक्षिण के अभिनेता प्रभास के लिए लिखा गया था. ‘बाहुबली’ किरदार को रचे जाने के समय को याद करते हुए राजामौली ने कहा, “हमने, प्रभास और मैंने, इससे पहले दस साल पहले एक फिल्म पर काम किया था और हम गहरे दोस्त बन गए थे. हम दिन-रात घंटों बातें करते थे. केवल ‘बाहुबली’ को लेकर ही नहीं बल्कि फिल्म निर्माण के तमाम पहलुओं पर, फिल्म निर्माण के दर्शन पर.” Also Read - Happy Birthday Prabhas: 'राधेश्याम' ने प्रभास को दिया बर्थडे गिफ्ट, इस महाकाव्य प्रेम कहानी का अंजाम क्या होगा?

उन्होंने कहा, “हमारे तार जुड़ गए. हम एक-दूसरे को अच्छी तरह समझते हैं. वह जानते थे कि मेरी एक युद्ध संबंधी फिल्म बनाने की गहरी इच्छा है और वह इसके लिए तैयार थे.” राजामौली ने कहा कि प्रभास ने पूरे तीन साल कोई और काम न लेकर खुद को बाहुबली के लिए समर्पित रखा. Also Read - 'बाहुबली' के जन्मदिन पर मचेगा हंगामा, 23 अक्टूबर को है विशेष घोषणा की तैयारी   

राजामौली ने कहा, “यहां तक कि वह इसमें कुछ ज्यादा ही घुस गए थे. जब मैंने इस फिल्म के लिए डेढ़ साल तक की तारीखें मांगी तो वह हंसे और कहा, आप इस फिल्म को कभी इतने समय में नहीं बना पाओगे और इस तरह उन्होंने स्वयं को लगभग साढ़े तीन साल स्वतंत्र रखा. और अंत में, इस फिल्म को बनाने में पांच साल लग गए और प्रभास इसके लिए उपलब्ध थे.” Also Read - बाहुबली वाले प्रभास ने कायम की नई मिसाल, 1650 एकड़ में फैले रिजर्व फॉरेस्ट को लिया गोद 

उन्होंने कहा कि यहां तक की प्रभास तब भी मौजूद थे, जब किरदारों का लिखा जाना भी शुरू नहीं हुआ था.

उन्होंने कहा, “मेरा मतलब हमने अनुष्का, शिवगामी और कट्टप्पा के लिए लिखे गए किरदारों के आधार पर कलाकारों को लिया. लेकिन प्रभास के साथ ऐसा नहीं है, यह किरदार उनके लिए ही लिखा गया था.”

‘बाहुबली : 2 द कन्क्लूजन’ ने भारत में कमाई के सभी पिछले रिकॉर्ड तोड़ दिए हैं.

–आईएएनएस