अभिनेता जॉन अब्राहम की आने वाली फिल्म ‘बाटला हाउस’ जामिया नगर के बाटला हाउस में आतंकवादियों के साथ साल 2008 में हुई कथित मुठभेड़ के पीछे की सच्चाई को उजागर करने का प्रयास करेगी. दिल्ली में 13 सितंबर, 2008 को हुए सिलसिलेवार बम धमाकों में 26 लोगों की मौत हो गई और 133 से अधिक घायल हो गए. इसके बाद दिल्ली पुलिस के स्पेशल सेल की ओर से 19 सितंबर को एक ऑपरेशन चलाया गया, जिसमें बाटला हाउस के एक फ्लैट में छापा मारा था. इस दौरान दो कथित आतंकवादी आतिफ अमीन व मोहम्मद साजिद को पुलिस ने गोली मार दी थी.

रणवीर ने शेयर की दीपिका की एक नई तस्वीर, कैप्शन में जो लिखा….लोगों ने बहुत पसंद किया

हालांकि कुछ नेताओं ने इस मुठभेड़ को फर्जी बताया था. जॉन अब्राहम इस फिल्म में डीसीपी संजीव कुमार यादव की भूमिका निभा रहे हैं, जिन्होंने इस ऑपरेशन को अंजाम दिया था. फिल्म की रिलीज से पहले जॉन ने कई टीजर का भी अनावरण किया है.

इनमें एक टीजर में एक राजनेता यह बताते हुए दिखता है कि नकली मुठभेड़ में मारे गए लोग छात्र थे. टीजर में विरोध के दृश्य भी दिखाई दे रहे हैं.

अभिनेता जॉन अब्राहम ने ट्विटर पर लिखा, “देशभर में अंतहीन विरोध और बाद में अंतहीन आरोप, सच्चाई की तलाश अभी भी जारी है.”

बाटला हाउस का निर्देशन निखिल आडवाणी ने किया है और इसमें मृणाल ठाकुर भी हैं. यह फिल्म 15 अगस्त को रिलीज होने वाली है.

(इनपुट आईएनएस)

बॉलीवुड और मनोरंजन जगत की ताजा ख़बरें जानने के लिए जुड़े रहें  India.com के साथ.