नई दिल्ली. लोकसभा चुनाव (Lok Sabha Election) के पहले चरण का मतदान हो चुका है. दूसरे चरण की वोटिंग गुरुवार को देश के 95 सीटों पर हो रही है. इस बीच चुनाव के बचे 5 चरणों के लिए प्रचार का सिलसिला जारी है. हर राजनीतिक दल अपने-अपने तरीकों से वोटरों को लुभाने की कोशिश में चर्चित हस्तियों को चुनाव प्रचार के मैदान में उतार रहे हैं. इनमें से ज्यादातर हस्तियां फिल्मों से जुड़ी होती हैं. अभी हाल ही में मथुरा से भाजपा सांसद हेमामालिनी के प्रचार में उनके पति बॉलीवुड के दिग्गज अभिनेता धर्मेंद्र के प्रचार करने की खबरें आई थीं. इसी तरह पश्चिम बंगाल में भी कई फिल्मी कलाकार विभिन्न दलों के पक्ष में चुनाव प्रचार कर रहे हैं. इसी क्रम में टीवी के लोकप्रिय सीरियल ‘भाबी जी घर पर हैं’ की अंगूरी भाभी को भी चुनाव में प्रचार का ऑफर मिल रहा है. लेकिन टीवी की इस ‘भाभी’ को ऐसी राजनीति से परहेज है.

‘भाबी जी घर पर हैं’ सीरियल में अंगूरी भाभी का किरदार निभाने वाली एक्ट्रेस शुभांगी आत्रे (Shubahngi Atre) ने लोकसभा चुनाव के लिए किसी भी दल की तरफ से प्रचार करने से इनकार कर दिया है. शुभांगी इस सीरियल में उत्तर प्रदेश की महिला का किरदार निभा रही हैं. इसलिए उन्हें कई ऑफर उत्तर प्रदेश में चुनाव प्रचार करने से संबंधित मिले हैं. लेकिन इन सभी ऑफर्स को शुभांगी ने मना कर दिया है. टाइम्स ऑफ इंडिया में छपी खबर के मुताबिक शुभांगी को अभी तक 6 से ज्यादा चुनाव प्रचार के ऑफर मिले हैं.

चुनाव प्रचार करने मथुरा पहुंचे धर्मेंद्र, हेमामालिनी ने तस्‍वीर ट्वीट कर कही ये बात

लोकसभा चुनाव में प्रचार करने के सवाल पर शुभांगी ने कहा कि ये सभी ऑफर उनके सीरियल के किरदार को देखते हुए मिले हैं. उन्होंने अखबार के साथ बातचीत में कहा, ‘मुझे कई अलग-अलग पार्टियों की तरफ से चुनाव में प्रचार करने के ऑफर मिले हैं. खासकर यूपी के छोटे शहरों में चुनाव प्रचार करने के लिए कई ऑफर मिले. यह मेरे सीरियल के किरदार के पॉपुलर होने का असर है.’

शुभांगी आत्रे ने बताया कि उसने ऐसे सभी ऑफर्स ठुकरा दिए, क्योंकि वह किसी भी राजनीतिक दल के लिए प्रचार नहीं करना चाहती हैं. शुभांगी ने अखबार के साथ बातचीत में टीवी कलाकारों को प्रचार करने के प्रस्ताव मिलने के सवाल पर कहा, ‘जब कभी देश में चुनाव होते हैं, टीवी कलाकारों को ऐसे ऑफर मिलते हैं. चूंकि फिल्मों के मुकाबले टीवी कलाकार की पहुंच ज्यादा घरों में होती है. वे आम लोगों की जिंदगी के साथ ज्यादा जुड़े होते हैं. इसलिए राजनीतिक पार्टियां इन कलाकारों को चुनाव प्रचार के लिए बुलाना चाहती हैं.’

राजनीति के बारे में अपने विचार रखते हुए शुभांगी ने कहा, ‘राजनीति में मेरी दिलचस्पी है. मैं कई राजनेताओं को फॉलो भी करती हूं. अक्सर अपने सोशल मीडिया पर इससे जुड़े विचार शेयर भी करती हूं, लेकिन जहां तक किसी नेता या फिर पार्टी के लिए चुनाव प्रचार करने की बात है, तो यह अलग मसला है. मैं सोचती हूं कि मैं यह काम नहीं करना चाहूंगी.’

लोकसभा चुनाव से जुड़ी खबरों के लिए पढ़ते रहें India.com