भोजपुरी इंडस्ट्री की टॉप एक्ट्रेस अक्षरा सिंह (Akshara Singh) भगवान में विश्वास रखती हैं. यही नहीं उनकी काफी सारी म्यूजिक एलबम कांवड़ और नवरात्रि पर आधारित होती हैं. हाल ही में अक्षरा छिन्नमस्तिके देवी के मंदिर गईं और वहां जाकर बड़ी शिद्दत से प्रार्थना की. बता दें, छिन्नमस्तिके देवी का मंदिर झारखंड में है. इस तस्वीर को शेयर करते हुए अक्षरा ने कैप्शन में लिखा -“सारी दुनिया का हाँथ मेरे सर से हटे
माँ आँचल तू अपना हटाना ना
गिर पर्वत से बच जाउंगी मैं अपने नज़र से गिराना ना
रजरप्पा माँ के दरपे….
माता रानी का दिन माता रानी का समय”

है दक्षकन्या वो शाम्भवी, है ब्राह्मी,हैं वो भाविनी यती सती हैं आग वहीं तो ममता वही है माँ वहीं हर नारी में विराज वही वो दुर्गा लक्ष्मी रौद्रा भव्या बहुला ज्ञाना पार्वती हे रत्नप्रिया सर्वविद्या ! कल्याणम जगत ब्रह्मवादिनी प्रणाम है हर एक नारी को तुमसे ही है ब्रम्हाण्ड बसी तुम से ही है ब्रम्हाण्ड बसी जय माता दी🙏

A post shared by Akshara Singh (@singhakshara) on


वहीं दूसरी और अक्षरा का पावन माह नवरात्र में आया एक गीत काफी ज्यादा देखा जा रहा है. महज 3 दिन के अन्दर इस वीडियो को 13 लाख से भी ज्यादा बार देखा जा चुका है.

बता दें, नवरात्र‍ि के नौ दिनों के दौरान मां दुर्गा के नौ अलग-अलग स्‍वरूपों की पूजा होती है. हर स्‍वरूप का अलग महत्‍व है. नवरात्र‍ि के सातवें दिन है मां दुर्गा के सातवें स्‍वरूप मां कालरात्र‍ि का पूजन होती है. मंगलवार 16 अक्टूबर को मां कालरात्रि की पूजा होगी.

मां दुर्गा का कालरात्र‍ि स्‍वरूप भयानक है. इनके शरीर का रंग घने अंधकार की तरह बिल्‍कुल काला है. ऐसी मान्‍यता है कि मां कालरात्र‍ि की उपासना करने वाले जातकों को शत्रुओं पर विजय का आर्शीवाद प्राप्‍त होता है. मां उनकी रक्षा काल से भी करती हैं.

बॉलीवुड और मनोरंजन जगत की ताजा ख़बरें जानने के लिए जुड़े रहें  India.com के साथ.