मुंबई: अभिनेत्री भूमि पेडनेकर का कहना है कि ‘सांड की आंख’ में शार्पशूटर चंद्रो तोमर का किरदार निभाना उनके लिए जीवन की दिशा बदलने वाला अनुभव रहा.

‘दम लगा के हईशा’ और ‘शुभ मंगल सावधान’ में अपनी दमदार भूमिकाओं से अभिनय क्षमता का लोहा मनवा चुकीं अभिनेत्री का कहना है कि वह शुरू में इस भूमिका के साथ न्याय करने को लेकर आशंकित थीं, लेकिन अब वह इसे अपने करियर की सबसे खास फिल्मों में से एक मानती हैं.

उन्होंने कहा, ‘मुझे याद है कि जब मुझे पहली बार इस फिल्म की पेशकश की गई थी. मैं इसको लेकर चिंतित थी कि हम इसे कैसे निभाएंगे. क्या हम उनकी महान कहानी के साथ न्याय कर पाएंगे? और अब मैं गर्व से कह सकती हूं कि यह मेरे करियर की सबसे खास फिल्म है।’