नई दिल्ली: ‘बिग बॉस 13 (BIGG BOSS 13)’ के वीकेंड के वार में शनिवार की रात एसिड अटैक पीड़िता लक्ष्मी अग्रवाल (Lakshmi Agarwal) बिग-बॉस के घर पहुंची थीं, जहां उन्होंने शो के कंटेस्टेंट के साथ अपनी दर्दभरी कहानी शेयर की. लक्ष्मी अग्रवाल की कहानी सुनकर शो के सभी कंटेस्टेंट काफी भावुक हो गए. इस दौरान अपने को हर स्थिति में मजबूत दिखाने वाले सिद्धार्थ शुक्ला (Sidharth Shukla) भी काफी दुखी दिखाई दिए और उनकी आंखों से आंसू निकल आए. बिग बॉस के घर पहुंची एसिड सर्वाइवर लक्ष्मी ने बताया कि कैसे अपने ऊपर हुए एसिड अटैक के बाद उनका जीवन अस्त-व्यस्त हो गया था और अपने को दुनिया के सामने लाने में उन्हें किन मुश्किलों का सामना करना पड़ा. Also Read - Happy Birthday Rashmi Desai: महज 4 साल में टूट गई थी रश्मि देसाई की शादी, B ग्रेड फिल्मों में कर चुकी हैं काम...ऐसा रहा है सफर

इसके बाद लक्ष्मी शो के सभी कंटेस्टेंट से अपनी जिंदगी से जुड़ी कहानी शेयर करने को कहती हैं. जिसके बाद एक-एक कर सभी कंटेस्टेंट ने अपनी-अपनी कहानी उनके साथ साझा की. ऐसे में आरती सिंह (Arti Singh) ने भी सभी के साथ अपनी कहानी शेयर की. आरती ने बताया कि वह बताती हैं कि जब वह 13 साल की थीं, तो उनके साथ उनके घर के नौकर ने छेड़छाड़ की थी और उनके साथ रेप की कोशिश की थी, लेकिन खुद को बचाते हुए वह दूसरी मंजिल से कूदकर भाग गई थीं. Also Read - अरे ये क्या! सलमान खान को इग्नोर कर शहनाज़ गिल ने चुना सिद्धार्थ शुक्ला को, गजब है प्यार.. देखें Viral Video

वहीं मधुरिमा तुली (Madhurima Tuli) ने भी अपने अतीत से जुड़ी कड़वी कहानी लक्ष्मी अग्रवाल के साथ शेयर की. उन्होंने बताया कि कैसे वह तब टूट जाती हैं, जब वह अपने साथ हुए छेड़छाड़ की बात को याद करती हैं. वह बताती हैं कि जब वह 12 साल की थीं, तब उनके ट्यूटर ने उसके साथ छेड़छाड़ की थी. विशाल आदित्य सिंह (Vishal Aditya Singh) ने भी अपने साथ हुई घटना के बारे में बात करते हुए बताया कि जब वह 9 या 10 साल के थे, तब कुछ लोगों ने उनके साथ छेड़छाड़ की थी.

इसके बाद रश्मि देसाई (Rashmi Desai) ने बताया कि कैसे उन्हें अपनी जिंदगी में समस्याओं का सामना करना पड़ा, क्योंकि वह एक बहुत ही गरीब परिवार से ताल्लुक रखती थीं. हालांकि, अब उनकी आर्थिक स्थिति काफी अच्छी है, लेकिन एक समय था जब उन्होंने इसी गरीबी और खुद को बोझ समझकर जहर खाकर आत्महत्या करने की कोशिश की थी. वह बताती हैं कि उनके परिवार को उनसे प्यार नहीं था क्योंकि वह एक लड़की थीं. वह इन सब के कारण काफी समय तक डिप्रेशन में भी रहीं. बाद रश्मि ने कहा कि उन्होंने मजबूत होने और अपने जीवन में कुछ बनने का फैसला लिया था.