फिल्म बाहुबली के जरिए प्रभास लोगों के दिलों में कभी न भूलने वाली जगह बना चुके हैं. ये अलग बात है कि उन्होंने भी इस फिल्म के लिए कम तपस्या नहीं की है, वरना चार साल तक एक फिल्म के लिए मेहनत करना हर किसी के बस की बात नहीं होती. फिल्म बनने के ही दौरान उन्होंने 5 करोड़ के एक एड इंडोर्समेंट का ऑफर महज इसलिए ठुकरा दिया था क्योंकि वह बाहुबली के शूटिंग के बीच में खुद को भटकाना नहीं चाहते थे. इस फिल्म के लिए उन्होंने जी- जान लगा दी. आज प्रभास का जन्मदिन है इस मौके पर हम आपको बताते हैं उनकी जिंदगी से जुड़ी कुछ खास बातें-

-प्रभास को मीडिया की चकाचौंध और पार्टी में जाना पसंद नहीं. असल जिंदगी में वे बेहद ही साधारण से इंसान हैं.

-प्रभास का असली नाम ‘वेंकट सत्यनारायण प्रभास राजू उप्पलपट्टी’ है.

-प्रभास साउथ फिल्म इंडस्ट्री के पहले ऐसे हीरो हैं जिनका वैक्स स्टैच्यू बैंकॉक के मैडम तुसाद में लगा है.

-लाखों दिलों की धड़कन बन चुके प्रभास शुरुआत में होटल इंडस्ट्री में करियर बनाना चाहते थे. ये बात उन्होंने खुद एक इंटरव्यू में स्वीकार की थी.

-प्रभास ने मुन्ना भाई एमबीबीएस और 3 इडियट्स 20 बार देखी है. वह राजू हिरानी के बड़े फैन हैं.

-बाहुबली के किरदार को अंजाम देने के लिए प्रभास अमेरिका महज इसलिए गए ताकि वह वो डब्ल्यू डब्ल्यू एफ के पहलवानों के साथ मिलकर उनकी ट्रेनिंग तकनीक को और करीब से देख सकें.

– प्रभास एक फिल्मी परिवार से ताल्लुक रखते हैं. उन्के पिता सूर्यनारायण राजू प्रोड्यूसर हैं. उनके चाचा कृष्णम राजू एक टॉलीवुड स्टार हैं.

-प्रभास कभी एक्टर नहीं बनना चाहते थे. वो अपना करियर होटल इंडस्ट्री में बनाना चाहते थे. ये बात खुद उन्होंने एक इंटरव्यू में बताई थी.

-प्रभास की फेवरेट डिश चिकन बिरयानी है.

-वियतनाम के ख़ास ट्रेनर्स के साथ तलवार बाज़ी के गुर सीखने के अलावा उन्होंने शरीर बनाने के लिए दिन मे 40अंडों को निगलने का भी कारनामा कर दिखाया.