नई दिल्ली. बॉलीवुड की दुनिया मोहक है, लेकिन दुखदायी भी. इस दुनिया में जहां एक तरफ खुशियां बरसती दिखती हैं, वहीं गम भी पीछा नहीं छोड़ते. जी हां, हम बात कर रहे हैं बॉलीवुड के उन कलाकारों की, जिन्होंने फिल्मी दुनिया में कदम रखने से पहले पहाड़ जैसा दुख उठाया है. ताजा मामला जाह्नवी कपूर का है जो इसी साल से बॉलीवुड की रंगीन दुनिया में कदम रखने जा रही हैं. लेकिन इससे पहले ही उनकी मां श्रीदेवी का निधन हो गया. जाह्नवी से पहले कई उदाहरण हैं जिनके नाम जानकर आप चौंक जाएंगे. सहयोगी चैनल WION की रिपोर्ट के अनुसार बॉलीवुड के ऐसे चार कलाकार हैं जिनकी मां उनकी पहली फिल्म नहीं देख सकीं. आइए जाह्नवी कपूर से ही शुरुआत करते हैं. Also Read - विकास दुबे के सिर पर पचास हजार के इनाम का ऐलान, मां बोली- पकड़कर एनकाउंटर कर दो उसका

Also Read - क्षेत्रीय भाषाओं में हो सकती है क्लैट की परीक्षा, बार काउंसिल ऑफ इंडिया ने इसके लिए बनाई समिति, जानें पूरी डिटेल 

जाह्नवी कपूर Also Read - बोमन ईरानी इस हॉरर फिल्म से बॉलीवुड में किया था डेब्यू , इंटरव्यू के जरिए बता रहें हैं फिल्मी सफर से जुड़ी दिलचस्प बातें

Jahnvi-Kapoor

दिवंगत अदाकारा श्रीदेवी और बॉलीवुड के जाने-माने निर्देशक बोनी कपूर की बेटी जाह्नवी कपूर इसी साल बॉलीवुड में डेब्यू करने जा रही हैं. उनकी पहली फिल्म ‘धड़क’ इसी साल 20 जुलाई को रिलीज होने वाली है. लेकिन इससे पहले ही उनकी मां श्रीदेवी ने बीती 24 फरवरी को दुनिया छोड़ दिया.

अर्जुन कपूर

Arjun-kapoor

जाह्नवी कपूर के सौतेले भाई और बॉलीवुड अभिनेता अर्जुन कपूर को भी अपनी पहली फिल्म की रिलीज से पहले मां से बिछड़ने का गम उठाना पड़ा है. अर्जुन कपूर की पहली फिल्म ‘इश्कजादे’ थी जो 2012 में रिलीज हुई थी. यह फिल्म 11 मई 2012 को रिलीज हुई थी, लेकिन इससे पहले ही 25 मार्च 2012 को अर्जुन कपूर की मां मोना कपूर का निधन हो गया.

शाहरुख खान

Shahrukh-Khan

बॉलीवुड के बादशाह माने जाने वाले सुपरस्टार शाहरुख खान ने भी फिल्मों की सुनहरी दुनिया में आने से पहले मां की गोद खोने का दुख उठाया है. शाहरुख खान ने वर्ष 1992 में फिल्म ‘दीवाना’ से अपना करियर शुरू किया था. लेकिन बदकिस्मती से उनकी मां अपने बेटे की पहली फिल्म नहीं देख सकी थीं. क्योंकि 26 जून 2012 को ‘दीवाना’ के रिलीज होने से करीब दो साल पहले ही शाहरुख की मां लतीफ फातिमा खान इस दुनिया से चल बसी थीं.

संजय दत्त

Sanjay-Dutt

हिन्दी फिल्म जगत में आने से पहले बिगड़ैल की छवि पाने वाले और बाद में ड्रग्स की लत छोड़कर शानदार फिल्मी करियर बनाने वाले सदाबहार अभिनेता संजय दत्त का गम भी कम नहीं है. उनकी मां और प्रख्यात सिने तारिका नरगिस दत्त ने बड़ी मुश्किलों से बेटे को ड्रग्स की गिरफ्त से निजात दिलाकर फिल्मों की तरफ उनका ध्यान दिलाया. लेकिन बेटे का फिल्मी सफर शुरू होने से पहले ही नरगिस इस फानी दुनिया को छोड़ गईं. संजय दत्त ने 8 मई 1981 को अपनी पहली फिल्म ‘रॉकी’ से सिनेमा का करियर शुरू किया था. लेकिन फिल्म रिलीज होने के महज 5 दिन पहले 3 मई 1981 को उनकी मां नरगिस दत्त की मृत्यु हो गई.

यह भी पढ़ें ः सिनेजगत में अंधेरा कर गईं ‘चांदनी’, विनम्र श्रद्धांजलि