‘लस्ट स्टोरीज’ में अनचाही शादी में फंसी एक पत्नी से लेकर ‘संजू’ में नरगिस दत्त के किरदार निभाने वाली मनीषा कोइराला ने फिल्म जगत में वापसी की है और उन्होंने इसे अपनी दूसरी पारी बताया है. उनका कहना है कि वे इसका अधिक से अधिक लाभ उठाना चाहती हैं. मनीषा ने आईएएनएस से कहा, “यह बेशक मेरी दूसरी पारी है, ना सिर्फ करियर में बल्कि जिंदगी में भी. और, इसलिए यह मेरा सर्वश्रेष्ठ दौर है.”

उन्होंने कहा, “इससे पहले मैं जिस भी दौर में थी, तब वास्तव में मैं सजग होकर नहीं जी रही थी. लेकिन, अब मैं सजग हूं. यह पहले से बेहतर है.” अभिनेत्री ने 1991 में ‘सौदागर’ से बॉलीवुड में कदम रखा, फिर इसके बाद ‘1942 : ए लव स्टोरी’, ‘बॉम्बे’, ‘अकेले हम अकेले तुम’, ‘खामोशी : द म्यूजिकल’, ‘गुप्त : द हिडेन ट्रथ’, ‘दिल से.’ और ‘मन’ जैसी फिल्मों में अपने प्रदर्शन से वे दर्शकों को सम्मोहित करती रहीं. ‘जानी दुश्मन : एक अनोखी कहानी’, ‘एक छोटी सी लव स्टोरी’, ‘पैसा वसूल’ और ‘डियर माया’ जैसी फिल्में करने के बाद उनका जादू कम हो गया.

कैंसर से जूझने के बाद, वे अब विविध परियोजनाओं पर काम कर रही हैं, कैंसर से अपनी जंग के बारे में लिख रही हैं और अपनी प्रेरणादायक बातों से लोगों को प्रेरणा दे रही हैं. एक गैर सरकारी संगठन ‘सहचरी फाउंडेशन’ के साथ कैंसर सरवाइवर्स के लिए रुपए इकट्ठे करने दिल्ली में एक कार्यक्रम में आईं अभिनेत्री ने कहा, “एक तरीके से, एक कलाकार के तौर पर मैं सुरक्षित महसूस कर रही हूं. लेकिन मुझे लगता है कि लगातार अच्छा काम करने के लिए किसी के अंदर भूख होनी चाहिए. पहले से बेहतर करने की कोशिश करते रहनी चाहिए. यह होता है या नहीं होता है, यह अलग बात है. अंत में, मैं कठोर परिश्रम करूंगी, ज्यादा जज्बा दिखाऊंगी और ज्यादा समर्पित बनूंगी.”

कैंसर से लड़ने के बाद जीवन के प्रति सोच बदलने के प्रश्न पर उन्होने कहा, “इसने मुझे केवल अच्छी चीजों की तारीफ करने के लिए एक नजर दी है. दूसरे शब्दों में, इस जादुई जीवन के लिए आभारी रहो और इस जीवन से जो कुछ मिला है, उसकी सराहना करो.” मनीषा को 2012 में कैंसर होने का पता चला. उन्होंने इससे उबरने के अपने सफर को ‘हील्ड : हाऊ कैंसर गेव मी अ न्यू लाइफ’ में लिखा है. मनीषा की अगली फिल्म ‘प्रस्थानम’ है जिसमें वे संजय दत्त की पत्नी का किरदार निभाएंगी.