बॉलीवुड एक्ट्रेस यामी गौतम ने कहा है कि भारतीय फिल्म इंडस्ट्री में देशभक्ति से प्रेरित फिल्में कम बनती हैं. यामी ‘उरी’ के अपने को-एक्टर विक्की कौशल के साथ फिल्म के प्रोमोशन के लिए एक रेडियो स्टेशन पहुंची. फिल्म 2016 में पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर में भारतीय सेना द्वारा की गई सर्जिकल स्ट्राइक पर आधारित है, जो उरी हमले के प्रतिशोध में की गई थी.

यामी ने कहा, “हम वैसे भी देशभक्ति से प्रभावित कम ही फिल्में बनाते हैं, इसलिए लंबे समय बाद दर्शक इस तरह की फिल्म देखेंगे, जो बेहद महत्वपूर्ण घटना पर आधारित है. हमें वास्तव में उम्मीद है कि दर्शकों को फिल्म पसंद आएगी.” फिल्म के ट्रेलर पर दर्शकों की प्रतिक्रिया के बारे में यामी ने कहा, “हमारी टीम के भीतर फिल्म की रिलीज को लेकर घबराहट और उत्साह दोनों है. फिल्म के ट्रेलर पर हमें जिस तरह की प्रतिक्रिया मिल रही है, वह वास्तव में अद्भुत है.”

वहीं, विक्की ने कहा, “मुझे लगता है कि हर किसी को यह फिल्म अपने परिवार के साथ देखनी चाहिए, क्योंकि यह एक अच्छी फिल्म है. मैंने इसे देखी है और मुझे भरोसा है कि दर्शक भी फिल्म को सराहेंगे.” फिल्म 11 जनवरी को रिलीज हो रही है. 2016 के प्रतिष्ठित सर्जिकल स्ट्राइक पर आधारित, आदित्य धर के निर्देशन में बनी उरी में पाकिस्तान के आतंकवादी ठिकानों के खिलाफ भारतीय सेना की वीरता को दर्शाया गया है. भारतीय सेना के इतिहास में पहली बार, हमारे देश ने एक दुश्मन पर हमला करने की पहल की थी, जिससे यह जंग और अधिक विशेष हो गई थी.

सर्जिकल स्ट्राइक में जिस तरह भारतीय सेना ने आतंकवादियों का सफाया करने के लिए दुश्मनों की भूमि में प्रवेश किया था, ठीक ऐसा हमला साल 2011 में देखा गया था जहां अमेरिकी सेना के अधिकारियों ने ओसामा बिन लादेन के क्षेत्र में प्रवेश कर के उसे मार डाला था. 2011 के अमेरिकी हमले को उजागर करते हुए, फिल्म “ज़ीरो डार्क थर्टी” को वास्तविक जीवन की घटना के भयंकर और प्रामाणिक चित्रण को पेश करने के लिए दुनिया भर से सराहना प्राप्त हुई थी.