बॉलीवुड डायरेक्टर महेश भट्ट अक्सर सामाजिक मुद्दों पर अपनी राय रखते नजर आते हैं. कोलकाता में आयोजित 4वें कोलकाता अंतर्राष्ट्रीय फिल्म महोत्सव के उद्घाटन समारोह में महेश भट्ट ने कहा, “हम भारत का वर्णन एक रंग में नहीं कर सकते. यह एक विविधता से भरपूर देश है और हमें इसकी बहुलता का जश्न मनाने की जरूरत है.”

इस बात का जिक्र करते हुए कि भारत के वर्णन को एक रंग में घटाया नहीं जा सकता है, फिल्मकार महेश भट्ट ने कहा कि विविधता से भरपूर इस देश की बहुलता का जश्न मनाया जाना चाहिए. उन्होंने कहा, “आज की बदलती दुनिया और बदलते वक्त में मेरा मानना है कि फिल्ममेकर और कहानीकार ही दुनिया को एकजुट रख सकते हैं. यह महसूस करने का अवसर है कि हममें से कोई एक हम सभी की तुलना में बहुत कम है.”


View this post on Instagram

Smelling coffee and watching the stream of life flow by.!

A post shared by Mahesh Bhatt (@maheshfilm) on

भट्ट ने चीनी रहस्यमयी पक्षी के बारे में बातें की, जिसकी एक आंख और एक पंख है, और यह तब तक अधूरा रहता है, जब तक कि वह अपने दूसरे हिस्से से नहीं मिलता. जब उसके दोनों हिस्से साथ मिलते हैं, तभी वह उड़ पाता है और देख पाता है.


View this post on Instagram

Such a BIG miracle in such a LITTLE girl! 🌈🌈🌈🌈🌈Happy Birthday Alia.

A post shared by Mahesh Bhatt (@maheshfilm) on

उन्होंने कहा, “यह हिन्दी सिनेमा में हमारे साथ हुआ था. जब बंगाल हमारे पास अपनी बुद्धिमत्ता और संवेदनशीलता के साथ आया, तो मुंबई की फिल्मी दुनिया उत्कर्ष पर पहुंची. इस धारा को और अधिक गहन होना चाहिए, ताकि एक राष्ट्र के रूप में हम सभी रंग को शामिल कर सकें.”

(इनपुट आईएएनएस)