नई दिल्ली: मनोरंजन जगत के लिए ये साल बहुत बुरा साबित हो रहा है. अब गीतकार अनवर सागर (Anwar Sagar Died) का बुधवार अपराह्न् कोकिलाबेन धीरूभाई अंबानी अस्पताल में निधन हो गया. वह 70 साल के थे. ख़बरों के मुताबिक वह उम्र संबंधित बीमारियों से पीड़ित थे.

सागर के निधन पर शोक व्यक्त करते हुए इंडियन परफॉर्मिग राइट सोसायटी लिमिटेड (आईपीआरएस) ने बुधवार को ट्वीट किया, “वयोवृद्ध गीतकार और आईपीआरएस के सदस्य अनवर सागर नहीं रहे. ‘वादा रहा सनम’ जैसे हिट गीतों के लिए पहचाने जाने वाले सागर ने विजयपथ और याराना जैसी फिल्मों के लिए भी गीत लिखे थे. इस कठिन समय में हमारी आत्मा और प्रार्थना उनके परिवार के साथ है. उनकी आत्मा को शांति मिले.”

अनवर सागर ने 80 और 90 के दशक में कई सारी फिल्मों के लिए गीत लिखे थे. उनके हिट गीतों में अब्बास-मुस्तान की 1992 में आई अक्षय कुमार स्टारर फिल्म ‘खिलाड़ी’ का गीत ‘वादा रहा सनम’ और 1992 में आई फिल्म ‘सपने साजन के’ का गीत ‘ये दुआ है मेरे रब से’ शामिल हैं. उन्होंने 1992 में रिलीज हुई दिव्या भारती स्टारर फिल्म ‘दिल का क्या कसूर’ का शीर्षक गीत भी लिखा था.

उन्होंने 1994 में आई अजय देवगन-तब्बू स्टारर फिल्म ‘विजयपथ’ और डेविड धवन की 1995 में रिलीज हुई ‘याराना’ के लिए गीत लिखे थे, जिसमें ऋषि कपूर, माधुरी दीक्षित और राज बब्बर प्रमुख भूमिकाओं में थे.