मुंबई: पूरा देश इस वक़्त कोरोना संकट का सामना कर रहा है. इस मुश्किल समय में कई लोगों ने मदद के हाथ आगे बढ़ाए हैं. कोई पैसा दान कर रहा है तो कोई राशन मगर इस बार अभिनेता सोनू सूद ने ऐसा किया है जो इससे पहले किसी एक्टर ने नहीं किया. जी हाँ, महाराष्ट्र और कर्नाटक सरकारों से अनुमति प्राप्त करने के बाद सोनू सूद ने कोविड-19 महामारी के बीच फंसे हुए प्रवासी श्रमिकों के लिए बस परिवहन की व्यवस्था की है. Also Read - अब कोई भी राज्य बिना अनुमति के श्रमिकों व कामगारों को अपने यहां नहीं ले जा सकेगा : सीएम योगी

सोनू ने परिवहन व्यवस्था के लिए कई बसों का आयोजन किया है. ये बसें सोमवार को महाराष्ट्र के ठाणे से कर्नाटक के गुलबर्गा के लिए रवाना हुईं. अभिनेता मजदूरों को अलविदा कहने के लिए बस टर्मिनल भी गए हुए थे. Also Read - सोनू सूद से एक यूजर ने कहा- घर में फंसा हूं, ठेके तक पहुंचा दो, फिर जो हुआ...

इस बारे में सोनू ने कहा, “मुझे पूरा विश्वास है कि वर्तमान समय में जब हम सभी इस वैश्विक स्वास्थ्य आपदा का सामना कर रहे हैं, प्रत्येक भारतीय अपने परिवारों और प्रियजनों के साथ रहना चाहता है. मैंने महाराष्ट्र और कर्नाटक सरकारों से इन प्रवासियों की घर वापसी में मदद करने के लिए लगभग दस बसों की आधिकारिक अनुमति ली है.” Also Read - उत्तर प्रदेश के प्रवासी कामगारों को राज्य वापस बुलाना चाहते हैं तो हमसे लेनी होगी इजाजत: आदित्यनाथ

 

View this post on Instagram

 

Stay home stay safe 😷

A post shared by Sonu Sood (@sonu_sood) on


उन्होंने आगे कहा, “महाराष्ट्र सरकार के अधिकारी काफी मददगार हैं, खास कर कागजी कार्रवाई का आयोजन करने में और कर्नाटक सरकार भी अपने प्रवासियों के घर वापस लाने में काफी मदद की. मुझे छोटे बच्चों और बूढ़े माता-पिता सहित सड़कों पर जाते प्रवासियों को देखकर काफी दुख हो रहा था. मैं अपनी क्षमता के अनुसार अन्य राज्यों के लिए भी ऐसा ही करता रहूंगा.”

इसके अलावा सोनू ने हाल ही में पंजाब में डॉक्टरों को करीब 1500 पीपीई किट्स दान किया था. वहीं उन्होंने जुहू के अपने होटल को फ्रंटलाइन वर्कर के आवास के तौर पर प्रयोग करने की पेशकश भी की थी.