बॉलीवुड के दिग्गज अभिनेता सुपरस्टार राजेश खन्ना की आज 18 जुलाई,2012) को पूण्यतिथि है. 70 के दशक के सबसे फेमस सितारों में से विनोद खन्ना हिंदी सिनेमा के पहले सुपरस्टार माने जाते थे. जिसके पीछे लड़कियां दीवानी थी. पंजाब के अमृतसर में 29 दिसंबर 1942 को जन्मे राजेश खन्ना बचपन से ही एक अभिनेता बनना चाहते थे. लेकिन उनके पिता उनके इस निर्णय के खिलाफ थे. उनका वास्तविक नाम जतिन खन्ना था अपने अंकल के कहने पर उन्होंने अपना बदल लिया था.

राजेश खन्ना ने अपने सिने करियर की शुरुआत 1966 में चेतन आंनद की फिल्म ‘आखिरी खत’ से की थी. राजेश और टीना मुनीम की जोड़ी बेहद हिट मानी जाती थी.

दोनों ने ‘फिफ्टी-फिफ्टी’ (1981), ‘सुराग’ (1982), ‘सौतन’ (1983), ‘अलग-अलग’ (1985), ‘आखिर क्यों’ (1985), ‘अधिकार’ (1986) सहित कई फिल्मों में साथ काम किया था.

कहा ये भी जाता है कि दोनों काफी लम्बे समय तक एकसाथ रहे. टीना चाहती थी कि राजेश अपनी पत्नी डिम्पल कपाड़िया से तलाक देकर उनसे शादी कर ले.

राजेश खन्ना ने उन्हें इस बात का आश्वासन दिया कि वो डिंपल को तलाक देकर उनसे शादी करेंगे. लेकिन राजेश खन्ना ने डिंपल को कभी तलाक नहीं दिया.