नई दिल्ली: वरुण धवन और श्रद्धा कपूर की फिल्म स्ट्री डांसर 3डी 24 जनवरी को रिलीज हो चुकी है. इस फिल्म को रेमो डिसूजा ने डायरेक्ट किया है. फिल्म में प्रभु देवा, नोरा फतेही, राघव जुयाल, पुनीत जे पाठक, सुशांत पुजारी और सलमान युसूफ भी मुख्य भूमिकाओं में हैं. बॉक्स ऑफिस इंडिया की रिपोर्ट के मुताबिक, फिल्म ने पहले दिन 10-11 करोड़ का ओपनिंग कलेक्शन किया है.

स्ट्रीट डांसर 3डी एबीसीडी फिल्म की तीसरी सीरीज़ है. फिल्म देखने पर कहानी का सार ज्यादा अलग नहीं लगता है, क्योंकि इसमें भी स्ट्रीट डांसरों का अपने डांस के प्रति जूनून और अंततः एक प्रतियोगिता के लिए संघर्ष दिखाया गया है. असल में ये फिल्म डांस के प्रति कुछ कर गुजरने के दीवानों को बेहद पसंद आएगी, जिसमें जबरदस्त ताबड़-तोड़ डांस स्टेप और वो भी चमचमाती लाईटिंग इफेक्टस और 3डी में.

फिल्म की कहानी कुछ यूं शुरू होती है कि पंजाब के सहज जैसी (वरुण धवन) लंदन में परिवार के साथ रहते हैं, साथ ही उनका बड़ा भाई इंदर भी है, जो एक बड़ी डांस प्रतियोगिता में चोटिल होने के कारण हार जाता है. ऐसे में सहज एक सपना लिए पंजाब जाता है, और वहां लोगों को लंदन ले जाने के बदले पैसा जुटा कर वापस लंदन आ अपना एक स्टूडियो खोलता है, जिसके बाद भाई इंदर की टीम स्ट्रीट डांसर फिर से अपनी टीम बनाती हैं. वहीं इनके विरोध में एक पाकिस्तानी टीम की लीडर इनायत (श्रद्धा कपूर) रूल ब्रेर्स डांस ग्रुप चलाती है. इन्हीं दोनों से अलग हैं एक रेस्टोरेंट चलाने वाले अन्ना (प्रभु देवा), जिनका एक मकसद है, भारत से नौकरी की तलाश में आए लंदन में फंसे लोगों को अपने वतन भेजना, जो हर रोज उनको खाना खिला उनकी मदद करते हैं. एक दिन इनायत अन्ना की इस सोच से प्रभावित हो जाती है, और यह मकसद बनाती है कि जो डांस प्रतियोगिता में पैसा मिलेगा उससे इन लोगों की मदद करेगी और इन सबको वापस अपने वतन जाने का अवसर मिलेगा. अब कहानी में ट्वीस्ट यह है कि सहज जैसी या इनायत की टीम कम्पीटीशन जीतती है, या नहीं और उनकी क्या कैमेस्ट्री बनती है फिल्म के क्लाइमेक्स को जानने के लिए आपको यह फिल्म देखनी चाहिए.