मुंबई, 27 नवंबर | भारतीय सिनेजगत गुरुवार को ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाज फिलिप ह्यूज के आकस्मिक निधन से सकते में आ गया। उनके निधन ने सबको एक बार फिर यह अहसास करा दिया कि जीवन बहुत क्षणिक है। फिलिप (25) ने 26 नवंबर, 2009 को ऑस्ट्रेलिया के लिए अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट में पदार्पण किया था। वह मंगलवार को सिडनी क्रिकेट ग्राउंड में न्यू साउथ वेल्स के साथ चल रहे एक मैच के दौरान गेंदबाज सीन एबॉट की बाउंसर गेंद से चोटिल हो गए थे।

उनकी सर्जरी भी कराई गई, लेकिन उन्हें बचाया नहीं जा सका। उनके यूं अचानक चले जाने से सोशल मीडिया पर शोक संदेशों का सैलाब उमड़ पड़ा।

करण जौहर : बहुत कम उम्र में चले गए। मेरी दुआएं और सहानुभूति उनके परिवार के साथ है। यह बेहद दुखद है। ह्यूज, ईश्वर आपकी आत्मा को शांति दे।

फरहान अख्तर : फिल ह्यूज की आत्मा को शांति मिले। सीन एबॉट इस सदमे से उबर सकें।

अर्जुन कपूर : जीवन ऐसा ही क्षणभंगुर है। फिल ह्यूज की आत्मा को शांति मिले और सीन एबॉट के साथ मेरी पूरी हमदर्दी है।

राहुल बोस : अभी अभी दुखद खबर सुनी। क्रिकेटर रमन लांबा की दुखद मौत के बाद खेल जगत में दुर्घटनावश हुई यह पहली कष्टप्रद मौत है।

निमरत कौर : इस तरह की आकस्मिक मौत के बारे में सुनना दुखदाई है।

नेहा धूपिया : फिल ह्यूज की आत्मा को शांति मिले। बहुत जल्दी अलविदा कह दिया।

अरबाज खान : बाउंसर गेंद से चोटिल होने के बाद ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेटर फिल ह्यूज के मारे जाने की खबर सुनकर बहुत तकलीफ हुई।